भीख का कटोरा लेकर दुनिया में घूम रहे हैं इमरान खान: बिलावल भुट्टो

इस्‍लामाबाद। दुनियाभर से लोन पर लोन ले रहे कंगाल पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान अब विपक्ष के निशाने पर आ गए हैं। पाकिस्‍तान पीपुल्‍प पार्टी के चेयरमैन बिलावल भुट्टो जरदारी ने प्रधानमंत्री इमरान खान पर जोरदार हमला बोला है। बिलावल ने कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान भीख मांगने का कटोरा लेकर दुनिया की चौखट पर घूम रहे हैं और पूरे पाकिस्‍तान की प्रतिष्‍ठा को मिट्टी में मिला रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि इमरान खान ने पाकिस्‍तान को अंतरराष्‍ट्रीय कर्जदाता देशों और संगठनों का गुलाम बना दिया है।
बिलावल ने कहा कि इमरान खान के इस कदम से देश का भविष्‍य दांव पर लग गया है। पीपीपी नेता ने कहा, ‘पीएम इमरान खान ‘भीख मांगने का कटोरा’ लेकर वॉशिंगटन, रियाद, दुबई और पेइचिंग जा रहे हैं। इससे देश की प्रतिष्‍ठा बर्बाद हो गई है।’ उन्‍होंने कहा कि इमरान खान कर्ज लेकर देश की अर्थव्‍यवस्‍था को चला रहे हैं जिससे कई पीढ़‍ियों के लिए खतरा पैदा हो गया है।
‘इमरान खान ने 10 अरब डॉलर का लोन लिया’
पीपीपी नेता बिलावल ने कहा कि वर्ष 2021 में ही इमरान खान ने 10 अरब डॉलर का लोन लिया है जिससे कुल कर्ज 35 फीसदी बढ़ गया है। इमरान खान के कार्यकाल में पाकिस्‍तान का बाहरी कर्ज 95 अरब डॉलर से बढ़कर 116 अरब डॉलर हो गया है। बिलावल भुट्टो ने कहा कि पाकिस्‍तान अपनी सारी संपत्ति को भी गिरवी रख दे तो भी कभी भी इस कर्ज को लौटा नहीं पाएगा। इसने पाकिस्‍तान को खतरनाक स्थिति में पहुंचा दिया है जिससे देश शायद ही उबर पाए।
बिलावल ने कहा कि लोग अभी यह भले ही महसूस न करें लेकिन आने वाली पीढ़‍ियां इस विशाल कर्ज से बेहाल रहेंगी। उन्‍होंने आरोप लगाया कि पीएम इमरान खान के पूंजीवादी माफिया मित्र सरकारी खजाने को लूट रहे हैं। बिलावल ने चेतावनी दी कि इमरान खान सरकार गरीबों और मजदूरों पर ध्‍यान दे जो बढ़ती महंगाई के कारण अपने परिवार का पेट नहीं भर पा रहे हैं।
हर पाकिस्तानी के ऊपर अब 1 लाख 75 हजार रुपये का कर्ज
पीपीपी नेता का यह बयान ऐसे समय पर आया है जब इमरान खान कर्ज लेकर कर्ज चुकाने में लगे हुए हैं। सऊदी अरब और यूएई के पैसा मांगने पर इमरान खान सरकार ने चीन से कर्ज लेकर उसे लौटाया है। पाकिस्तान को कंगाल बनाने पर तुले प्रधानमंत्री इमरान खान अपने देश के नागरिकों को कर्ज के जाल में फंसाते जा रहे हैं। हाल में ही पाकिस्तान की संसद में इमरान खान सरकार ने कबूल किया है कि अब हर पाकिस्तानी के ऊपर अब 1 लाख 75 हजार रुपये का कर्ज है।
इसमें इमरान खान की सरकार का योगदान 54901 रुपये है, जो कर्ज की कुल राशि का 46 फीसदी हिस्सा है। कर्ज का यह बोझ पाकिस्तानियों के ऊपर पिछले दो साल में बढ़ा है। यानी जब से इमरान ने पाकिस्तान की सत्ता संभाली है तब से देश के हर नागरिक के ऊपर कर्ज लगातार बढ़ता जा रहा है। हालत यह है कि पाकिस्‍तान चीन का आर्थिक गुलाम बनता जा रहा है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *