CBI officers में झगड़े के बाद से दो रोटी ज्‍यादा खा रहा हूं: अखिलेश

लखनऊ। यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने CBI officers के बीच चल रहे विवाद पर कहा कि जिस दिन से सीबीआई में झगड़ा हुआ, मेरी डाइट बढ़ गई है। मैं दो रोटी ज्यादा खा रहा हूं। उन्होंने कहा कि मैं तो इस झगड़े का आनंद ले रहा हूं और इससे बहुत खुश हूं।
अखिलेश यादव आज (शुक्रवार को) लखनऊ स्थित सपा कार्यालय में इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रसंघ अध्यक्ष व अन्य पदाधिकारियों से भेंट करने के बाद मीडिया को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने केंद्र व राज्य की योगी सरकार को पूरी तरह भ्रष्टाचार में लिप्त बताया।
अखिलेश ने कहा कि आज संस्थानों के साथ खिलवाड़ हो रहा है CBI officers विवाद इसी का नतीजा है। भाजपा सीबीआई को बर्बाद कर देना चाहती है, जैसे कि पहले इन लोगों ने बैंकों को बर्बाद कर दिया। सीबीआई में झगड़ा देश के लिए बहुत खतरनाक है। इस समय देश के कई संस्थानों की विश्वसनीयता पर सवाल उठ रहे हैं।
अखिलेश ने कहा कि हम भी पहले सीबीआई क्लब में थे। हमारी भी जांच हो रही थी लेकिन हम साफ सुथरे निकल आए। हमें भी CBI officers से डराया गया।
‘सरकार का सारा ध्यान दूसरों के काम को अपना बताने व भ्रष्टाचार करने पर’
अखिलेश ने कहा कि इस समय की मोदी सरकार और राज्य की योगी सरकार का सारा ध्यान भ्रष्टाचार और दूसरों के काम को अपना बताने पर है। ये शिलान्यास का शिलान्यास और उद्घाटन का उद्घाटन कर रहे हैं। इंफ्रास्ट्रक्चर का जो काम हो रहा था वो रोक दिया गया।
राफेल मुद्दे पर उन्होंने केंद्र सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा कि अगर भाजपा का दामन साफ है तो उसे इस डील का पूरा ब्यौरा जनता के सामने रखना चाहिए। अखिलेश ने राफेल मुद्दे पर जांच के लिए जेपीसी बनाने की मांग की।
अखिलेश ने कहा कि मेक इन इंडिया की बात करने वालों ने इंवेस्टर्स समिट में भी चाइनीज लाइटें लगाई थी। उसमें भी घोटाला हो गया।
सपा से शिवपाल यादव की सदस्यता समाप्त करने पर दिया ये जवाब
प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया बनाने वाले अपने चाचा शिवपाल सिंह यादव की सपा से सदस्यता खत्म करने पर अखिलेश ने कहा, मैं किसी के साथ अन्याय नहीं करूंगा। शिवपाल जी अपना काम कर रहे हैं और मैं अपना काम कर रहा हूं।

समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सपा से अलग होकर नई पार्टी बनाने वाले अपने चाचा शिवपाल सिंह यादव की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी को परोक्ष रूप से भाजपा की सहयोगी टीम करार दिया है।

संवाददाताओं से बातचीत में इस सवाल पर कि क्या वह सपा से बगावत करके अलग पार्टी बनाने वाले अपने विधायक शिवपाल के खिलाफ कोई कार्रवाई करेंगे, अखिलेश ने अपने चाचा की पार्टी को परोक्ष रूप से भाजपा की सहयोगी करार दे दिया। उन्होंने कहा ‘‘सपा की लड़ाई सिर्फ भाजपा से है, और भाजपा की किसी भी ए, बी, सी, डी, ई, एफ, जी, एच, वाली टीम से लड़ाई नहीं है।’’

-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »