IIM Udaipur ने पीजी डिप्लोमा हेतु आवेदन मांगे

उदयपुर। भारतीय प्रबंधन संस्थान उदयपुर IIM Udaipur ने 20 महीने के पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन फॉर वर्किंग एक्जीक्यूटिव्स (PDBAWE)  प्रोग्राम के सैकंड एडिशन में प्रवेश के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं।
आईआईएमयू उम्मीदवारों को यह छूट देता है कि वे इस पाठ्यक्रम से संबंधित शुल्क को अपने वर्तमान नियोक्ताओं के माध्यम से पूरी तरह या पार्ट के तौर पर प्रायोजित करा सकते हैं, या वे चाहें, तो अपनी खुद की वित्तीय व्यवस्था के जरिये सीधे नामांकन भी करा सकते हैं। लेकिन बाद में सप्ताहांत कक्षाओं में भाग लेने के लिए कंपनी की अनुमति जरूरी होगी।

आईआईएम उदयपुर के डायरेक्टर प्रो. जनत शाह ने कहा, ‘‘वर्किंग एग्जिक्यूटिव्स के लिए बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में पीजी डिप्लोमा को इस तरह तैयार किया गया है कि यह कॅरियर-एडवांसमेंट के साथ-साथ लीडरशिप और स्ट्रेटेजी पर भी फोकस कर सके। यह पाठ्यक्रम बिजनेस मैनेजमेंट से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी बेहतर तरीके से उपलब्ध कराता है। सप्ताहांत के इस कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण यह है कि एग्जिक्यूटिव्स अपने कॅरियर में किसी ब्रेक के बिना अपने कौशल को और बढ़ा सकते हैं और कैम्पस-लर्निंग अनुभव को भी हासिल कर सकते हैं।’’

इस सप्ताह के अंत में, राजस्थान, गुजरात, और एमपी के आसपास के क्षेत्रों में काम करने वाले कर्मचारियों को आॅन-कैम्पस कोर्सेज में भाग लेने की अनुमति होगी, ताकि वे कार्यदिवस के अपने दायित्वों को आसानी से पूरा कर सकें और शनिवार और रविवार को आयोजित कक्षाओं के लिए आसानी से यात्रा कर सकें।

यह कार्यक्रम फाइनेंस, मार्केटिंग, पीपुल मैनेजमेंट, स्ट्रेटेजी, कम्युनिकेशन, इकोनाॅमिक्स और आॅपरेशंस मैनेजमेंट जैसे क्षेत्रों में मजबूत बुनियादी सद्धांतों का निर्माण करता है। साथ ही, यह नेतृत्व कौशल के लिहाज से भी छात्रों को तैयार करता है और कॅरियर की वृद्धि के साथ-साथ डिजिटल तकनीकों, एनालिटिक्स, डिजाइन थिंकिंग आदि नए दौर के व्यापार प्रतिमानों पर भी फोकस करता है। यह पाठ्यक्रम जुलाई 2021 में शुरू होगा और मार्च 2022 में समाप्त होगा। आईआईएम उदयपुर पाठ्यक्रम पूरा करने वाले सभी प्रतिभागियों को एलुमनी का स्टेटस प्रदान करेगा।

पात्रता
-किसी भी विषय में स्नातक
-योग्यता के बाद न्यूनतम तीन वर्ष का पूर्णकालिक अनुभव, 30 जून, 2021 तक
-2018 या बाद में आयोजित वैध जीमैट स्कोर, या वैध जीआरई स्कोर, या कैट स्कोर। वैकल्पिक रूप से, आवेदक आईआईएमयू की क्वालीफाइंग परीक्षा में शामिल हो सकते हैं जो 04 अप्रैल 2021 को आयोजित की जाएगी।
-वर्तमान में नियोजित होना चाहिए और कार्यक्रम में नामांकन के लिए नियोक्ता की पूर्व स्वीकृति आवश्यक है।
-PR

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *