IFFCO ने कई खादों की कीमतें फ‍िर घटाईं

नई द‍िल्ली। देश में किसानों की सबसे बड़ी खाद बनाने वाली सहकारी समिति IFFCO ने डाई-अमोनियम फॉस्फेट (डीएपी) सहित कई खाद की कीमतों में 50 रुपये की कटौती कर दी है। यह कमी कच्चे माल और वैश्विक कीमतों में हुई कटौती के तहत की गई है।
IFFCO के प्रबंध निदेशक यू एस अवस्थी ने कहा कि कंपनी ने डीएपी के अलावा अन्य खाद की खुदरा कीमतों में कटौती की है। इससे किसानों को फायदा मिलेगा। नई कीमतें 11 अक्तूबर से प्रभावी मानी जाएंगी। इफको ने डीएपी की 50 किलो की बोरी की नई कीमत 1250 रुपये कर दी गई है। पहले इसकी खुदरा कीमत 1300 रुपये थी। इसके अलावा एनपीके-1 कॉम्पलेक्स की कीमत 1250 रुपये से घटाकर के 1200 रुपये कर दी है। वहीं एनपीके-2 की कीमत 1260 रुपये से घटाकर के 1210 रुपये की गई है।

IFFCO ने एनपी कॉम्पलेक्स की नई कीमत 950 रुपये कर दी है। वहीं नीम कोटेड यूरिया की कीमतों में किसी तरह का कोई बदलाव नहीं किया गया है। यह पहले की तरह 266.50 रुपये प्रति 45 किलो बोरी की कीमत पर मिलता रहेगा। इससे पहले इफको ने जुलाई में डीएपी और अन्य खाद की कीमतों में कटौती की थी।

इससे पहले भी 15 अगस्त के मौके पर इफको ने किसानों के लिए कई तरह खाद की कीमत में कटौती की थी।

इफको के प्रबंध निदेशक यूएस अवस्थी ने कहा कि यह सहकारी संस्था लगातार किसानों के लाभ और वृद्धि में लगी हुई है ताकि 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के प्रधानमंत्री के लक्ष्य को हासिल किया जा सके।

कंपनी पूरे देश में 35,000 सहकारी समितियों के माध्यम से पांच करोड़ किसानों को सेवा दे रही है। यह दुनिया की सबसे बड़ी उर्वरक कंपनियों में गिनी जाती है। 2018-19 में इसका कारोबार 27,852 करोड़ रुपए था। इसके पांच कारखाने हैं। उनकी उत्पादन क्षमता कुल मिला कर 81.49 लाख टन है। कंपनी साधारण बीमा, ग्रामीण मोबाइल दूरसंचार, तेल-गैस, अंतराष्ट्रीय व्यापार और खाद्य प्रसंस्करण जैसे अन्य विविध क्षेत्रों में भी काम कर रही है। – एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *