अगर आप भी Loofah से नहाने की शौकीन हैं तो पहले इसे पढ़ लें

अगर आप भी फाइबर और प्लास्टिक से तैयार होने वाले सॉफ्ट-सॉफ्ट Loofah के बिना आपका नहाने का एक्सपीरियंस अधूरा रह जाता है तो आज ही से अपनी इस आदत को बदल दें।
ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि डर्मटोलॉजिस्ट्स की मानें तो नहाने के दौरान झाग बनाने के लिए यूज होने वाला लूफा आपकी स्किन और सेहत को फायदा पहुंचाने की बजाए नुकसान पहुंचाता है। कैसे, यहां जानें Loofah के बारे में क्या है स्किन स्पेशिल्स्ट्स और डर्मटोलॉजिस्ट्स की राय…
गीले Loofah में पनपते हैं बैक्टीरिया
आमतौर पर हम लूफा का इस्तेमाल इसलिए करते हैं क्योंकि यह शरीर पर जमा गंदगी और डेड स्किन सेल्स को रगड़ कर हटाने में मदद करता है। शरीर से निकलने वाले ये डेड सेल्स लूफा में जमा हो जाते हैं और अगर लूफा पूरी तरह से सूख न पाए तो ये ऑर्गैनिज्म लूफा में जमा होते जाते हैं और समय के साथ लूफा के अंदर ही पनपने लगते हैं। ऐसे में जिस बैक्टीरिया को आपने पिछली बार शरीर से साफ करके हटाया था वो और उसी तरह के और भी ज्यादा बैक्टीरिया फिर से शरीर पर वापस चिपक जाते हैं।
बीमारी का खतरा
लूफा अगर पूरी तरह से ड्राई न हो तो उसका नमी वाला वातावरण बैक्टीरिया को पनपने का मौका देता है और उनकी संख्या तेजी से बढ़ने लगती है। ऐसे में स्किन हेल्दी बनने की बजाए गंभीर रूप से बीमार भी हो सकती है।
स्किन इंफेक्शन का रिस्क
जर्नल ऑफ क्लिनिकल माइक्रोबायोलॉजी में प्रकाशित स्टडी की मानें तो लूफा में मौजूद बैक्टीरिया स्किन में इंफेक्शन का कारण बन सकता है और अगर किसी व्यक्ति का इम्यून सिस्टम कमजोर हो यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता वीक हो तो ये इंफेक्शन और बैक्टीरिया उस व्यक्ति को गंभीर रूप से बीमार बना सकते हैं।
लूफा को बाथरूम में न छोड़ें
हालांकि अगर आप नहीं चाहते कि आपका लूफा, बैक्टीरिया के पनपने की जगह बने तो इन जरूरी बातों का ध्यान रखें…
-हर बार नहाने के बाद लूफा को शावर के पास बाथरूम में न छोड़ें
-लूफा को धूप में कहीं टांग दें ताकी वह पूरी तरह से सूख जाए -आप चाहें तो हेयर ड्रायर यूज करके भी लूफा को पूरी तरह से सुखा सकती हैं ताकि उसमें पानी न रहे
-अगर लूफा से किसी भी तरह की बदबू आ रही हो या उसका रंग बदल जाए तो उसे तुरंत चेंज करके नया लें
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »