Air India नहीं बिकती है तो उसे बंद करना पडे़गा: पुरी

नई द‍िल्ली। सिविल एविएशन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने आज राज्यसभा में कहा है कि अगर Air India नहीं बिकती है तो उसे बंद करना पडे़गा, सरकार ने कहा क‍ि Air India की बिक्री March 2020 तक बेचने का लक्ष्य है। पिछले साल भी सरकार ने एयर इंडिया में हिस्सेदारी बेचने की कोशिश की थी, लेकिन शर्तों के मुताबिक कोई खरीदार नहीं मिला।

बंद होगी एयर इंडिया?

एविएशन मिनिस्टर ने एयर इंडिया के सवाल पर जवाब देते हुए कहा कि कंपनी की हालत काफी खराब है। प्राइवेटाइजेश की कोशिश की जा रही है। अगर विनिवेश नहीं हो पाएगा तो मजबूरन उसे बंद करना पड़ सकता है। पुरानी ने कहा कि एयर इंडिया के सभी कर्मचारियों के हितों का पूरा ख्याल रखा जाएगा लेकिन एयरलाइन की स्थिति को देखते हुए अंतिम फैसला लेंगे।

आज बुधवार को कंपनी ने नैरोबी के लिए लंबे समय बाद अपनी उड़ान सेवा को शुरू कर दिया है। कंपनी ने मुंबई से नैरोबी के लिए लंबे अर्से बाद अपनी विमान सेवा को शुरू कर दिया है। यह विमान सेवा हफ्ते के चार दिन चलेगी। मुंबई से सुबह 6.25 बजे चलेगी और सुबह 10 बजे अफ्रीका के शहर नैरोबी पहुंच जाएगी. वहीं वापसी में ये फ्लाइट दोपहर 12.00 बजे नैरोबी से चेलगी और शाम 8.40 बजे मुंबई पहुंच जाएगी।

क्यों नहीं बिक पाई एयर इंडिया?

एयर इंडिया में हिस्सेदारी बिक्री की कोशिश पिछले साल से हो रही है लेकिन कोई प्रतिक्रिया नहीं मिलने पर निवेशकों ने बची हुई 24 फीसदी हिस्सेदारी में सरकारी हस्तक्षेप की आशंका जताई थी। हालांकि अब इस शर्त को हटा दिया गया है। वित्त वर्ष 2018-19 में एयर इंडिया को 8,400 करोड़ रुपए का जबरदस्त घाटा हुआ है। फिलहाल एयर इंडिया की माली हालत इतनी खराब हैं कि ईंधन का बकाया तक तेल कंपनियों को नहीं दिया है। तेल कंपनियों ने भी बकाया नहीं मिलने पर ईंधन सप्लाई रोकने की धमकी दी थी।

एयर इंडिया पर कुल 58,000 करोड़ रुपए का कर्ज है।  एयर इंडिया ने पिछले वित्त वर्ष में लगभग 4600 करोड़ रुपए का ऑपरेटिंग नुकसान दर्ज किया है।  तेल की ऊंची कीमतों और विदेशी मुद्रा के नुकसान के कारण उसका घाटा लगातार बढ़ रहा है।
– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *