गेंदबाज Khalil Ahmed को ICC ने लगाई फटकार

वेस्टइंडीज के खिलाफ 3 विकेट लेने वाले गेंदबाज है Khalil Ahmed

दुबई। भारतीय क्रिकेट टीम के गेंदबाज Khalil Ahmed को वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए चौथे वनडे मैच में अतंर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की आचार संहिता का दोषी पाया गया है. वेबसाइट ‘ईएसपीएन’ की रिपोर्ट के अनुसार, खलील पर ब्रेबॉर्न स्टेडियम में खेले गए मैच के दौरान मार्लोन सैमुएल्स के साथ दुर्व्यवहार के लिए आईसीसी की ओर से आधिकारिक चेतावनी और एक डीमैरिट अंक दिया गया है.

खलील अहमद को 14वें ओवर में सैमुएल्स के आउट होने के बाद उन्हें अपशब्द कहते हुए सुना गया था. उन्हें कई बार ऊंची आवाज में कुछ कहते हुए भी सुना गया.

आईसीसी ने मंगलवार को कहा, “खलील अहमद को आईसीसी की आचार संहिता के लेवल-1 के उल्लंघन का दोषी पाया गया है. उन्होंने इसके तहत आचार सहिता में लेख 2-5 (एक अंतर्राष्ट्रीय मैच के दौरान अपने प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ी के खिलाफ गलत प्रकार का व्यवहार करना या ऐसी भाषा का इस्तेमाल करना, जो प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ी की आक्रामक प्रतिक्रिया का कारण बने) का उल्लंघन किया है.”

खलील ने इस उल्लंघन को स्वीकार करते हुए मैच रेफरी क्रिस ब्रॉड की ओर से लगाए गए जुर्माने को स्वीकार कर लिया है. इसका साफ मतलब यह है कि इस मामले में आधिकारिक सुनवाई की आवश्यकता नहीं है.

बता दें कि वेस्टइंडीज के खिलाफ चौथे वनडे मैच में खलील अहमद ने शानदार प्रदर्शन करते हुए तीन विकेट हासिल किए थे. खलील अहमद ने ही विंडीज के मध्य क्रम को तोड़ा तो निचला क्रम कुलदीप के हत्थे चढ़ा. दोनों ने तीन-तीन विकेट लिए. इन दोनों के अलावा भुवनेश्वर कुमार और रवींद्र जडेजा को एक-एक सफलता मिली. खलील ने लगातार अंतराल पर तीन विकेट लेकर विंडीज की हार तय कर दी. उन्होंने शिमरोन हेटमायर (13), रोवमैन पावेल (1) और मार्लन सैमुएल्स (18) को पवेलियन भेज विंडीज का स्कोर 56 पर छह विकेट कर दिया.

खलील ने पांच ओवरों में 13 रन देकर तीन विकेट लिए. मैच के बाद कप्तान विराट कोहली ने खलील अहमद की जमकर तारीफ की. कोहली ने खलील की तारीफ करते हुए कहा, “खलील अच्छी जगहों पर गेंद डाल रहे थे, और गेंद को दोनों तरफ स्विंग करा रहे थे.”

भारत की यह टेस्ट खेलने वाले देशों के खिलाफ अभी तक की सबसे बड़ी जीत है. भारत पांच मैचों की वनडे सीरीज में 2-1 से आगे हो गया. सीरीज का दूसरा मैच टाई रहा था.

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »