ICC ने दी टेस्ट और वनडे इंटरनेशनल लीग को हरी झंडी

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने क्रिकेट को और बढ़ावा देने के लिए शुक्रवार को हुई बैठक में टेस्ट और वनडे इंटरनेशनल लीग को हरी झंडी दे दी।
ICC के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेव रिचर्डसन ने आईसीसी की गवर्निंग बॉडी की मीटिंग के बाद इसकी जानकारी दी। पिछले काफी समय से द्विपक्षीय सीरीज को और रोचक बनाने के लिए इन सुझावों पर चर्चा चल रही थी। शुक्रवार की बैठक के बाद इन सुझावों पर फैसला लिया गया।
ICC के इस नए फैसले के बाद अब टेस्ट सीरीज लीग में 9 टीमें हिस्सा लेंगी और प्रत्येक टीम कुल 6 सीरीज खेलेगी। इन टीमों को 2 साल में ये 6 सीरीज खेलनी होंगी। इन 6 सीरीज में से 3 सीरीज अपने घर में और 3 सीरीज घर से बाहर खेलेंगी। इसी तरह वनडे लीग में खेलकर टीमें क्रिकेट वर्ल्ड कप के लिए यहीं से क्वॉलिफाइ करेंगी। इस तरह वर्ल्ड कप में ICC की 12 फुल मेंबर टीमें और आईसीसी वर्ल्ड क्रिकेट लीग चैंपियनशिप की विजेता टीम हिस्सा लेंगी। बता दें यह टेस्ट चैंपियनशिप 2019 वर्ल्ड कप के बाद और वनडे लीग 2020 के बाद शुरू होगी।
बैठक में ICC बोर्ड ने 9 टीमों की टेस्ट लीग और 13 टीमों की वनडे लीग को हरी झंडी दी है। आईसीसी ने यह निर्णय क्रिकेट में द्विपक्षीय सीरीज को पहले से अधिक महत्व देने के उद्देश्य से यह निर्णय लिया है। इस मौके पर आईसीसी के चेयरमैन शशांक मनोहर ने कहा, ‘क्रिकेट में और रुझान बढ़ाने के उद्देश्य से इस अग्रीमेंट पर सहमति बनाने के लिए मैं अपने सभी सदस्यों को इसकी बधाई देता हूं।’
उन्होंने कहा, ‘द्विपक्षीय सीरीज को महत्वपूर्ण बनाना कोई चुनौती नहीं थी, लेकिन यह पहली बार है, जब इस पर असल सहमति बनी है। अब इसका मतलब यह है कि दुनिया भर के फैन्स इंटरनेशनल क्रिकेट के हर मैच का लुत्फ उठा सकते हैं क्योंकि उन्हें यह पता होगा कि वनडे लीग का हर मैच वर्ल्ड कप क्वॉलिफाइ के नजरिए से महत्वपूर्ण होगा।’
-एजेंसी