मैंने खुद मंत्री पद छोड़ने की पहल की थी: Kalraj Mishra

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री Kalraj Mishra ने 2019 में नरेन्द्र मोदी के फिर से प्रधानमंत्री बनने का दावा करते हुए आज कहा कि मंत्रिमंडल से उन्हें निकाला नहीं गया,बल्कि बढती उम्र की वजह से उन्होंने खुद इस्तीफा देने की पहल की थी, श्री मिश्र ने यहां कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने लघु,मध्यम और सूक्ष्म मंत्री के रुप में उनके काम की सराहना की थी, मंत्री के रुप में उनके कार्यो की तारीफ हुई थी,लेकिन 75वर्ष की उम्र पूरी होने की वजह से उन्होंने स्वयं पद छोडने का निर्णय लिया था, उन्होंने कहा कि श्री मोदी और श्री शाह दोनों ने ही उनके निर्णय को सराहा, दोनों ने राय दी थी कि विधानसभा चुनाव तक वह अपने पद पर बने रहें, वह पार्टी के अनुशासित कार्यकर्ता रहे हैं इसलिए उन्होंने हमेशा नेतृत्व के आदेश को स्वीकार किया ।

बोले मिश्र जी-परफॉर्मेंस नहीं, उम्र है मंत्री पद छोड़ने की वजह

पीएम नरेंद्र मोदी की कैबिनेट के बड़े ब्राह्मण नेता व लघु, सूक्ष्म और मध्यम उद्योग मंत्री कलराज मिश्र ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। इसके बाद उन्होंने कहा ‘मैंने पीएम को पहले भी कहा था, कि मैं 75 साल का हूं और आप कहें तो मैं अपना इस्तीफा सौंप दूं। क्योंकि ये धारणा है, कि 75 साल में रिटायर हो जाना चाहिए, तब पीएम ने मुझे रुकने को कहा था।

मिश्र के मुताबिक जब उन्होंने पीएम को इस्तीफा सौंपा तो वो काफी भावुक थे उन्होंने मेरे काम की सराहना भी की।

ऐसा कहा जा रहा था, कि जिन मंत्रियों की परफॉर्मेंस अच्छी नहीं थी पीएम मोदी ने उनसे स्वयं इस्तीफा देने के लिए कह दिया था। लेकिन Kalraj Mishra कहते हैं परफॉर्मेंस के आधार पर मेरा इस्तीफा नहीं हुआ है।
-एजेंसी