तूफान इरमा ने फ्रांसीसी द्वीपों पर काफी नुकसान पहुंचाया

तूफान इरमा ने कैरेबियाई क्षेत्र में फ्रांसीसी द्वीपों पर काफी नुकसान पहुंचाया है. तूफान इरमा अपने उच्चतम संभव स्तर यानी श्रेणी पांच का है जो अब उत्तरी वर्जिन आइलैंड समूह से गुजर रहा है.
ये पिछले एक दशक में आया सबसे शक्तिशाली तूफान है. इस कारण कैरेबियाई क्षेत्र में 295 किमी प्रति घंटे (185 मील प्रति घंटे) की रफ़्तार से हवाएं बह रही हैं.
इन द्वीपों की तस्वीरें जो टीवी पर प्रसारित हो रही हैं उनमें सड़कें पानी से लबालब भरी हैं और गाड़ियां भी पानी में डूबी नज़र आ रही हैं.
तूफ़ान सबसे पहले एंटिगुआ और बारबुडा पहुंचा. बारबुडा की आबादी मात्र 1600 है.
प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन के अनुसार एंटिगुआ की आबादी लगभग 80,000 है और यहां अब तक किसी की मौत की कोई ख़बर नहीं है.
प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन ने बीबीसी को बताया. “तूफ़ान के कारण कम से कम एक बच्चे की मौत हो गई है और ज़्यादातर इमारतें तबाह हो गई हैं. एंटिगुआ और बारबुडा की करीब 95 फीसदी इमारतें क्षतिग्रस्त हो गई हैं.”
उन्होंने बताया कि बच्चे के माता-पिता सुरक्षित स्थान पर जाने की कोशिश कर रहे थे, इसी दौरान बच्चे को चोट आ गई थी.
एंटिगुआ और बारबुडा के प्रधानमंत्री ने बीबीसी को बताया कि दोनों द्वीपों पर तूफ़ान की चेतावनी के चलते पहले से सावधानी बरती गई थी इसलिए बड़े नुकसान को टाला जा सका.
गैस्टन ब्राउन ने कहा, “हमने पहले से ये सुनिश्चित किया था कि पिछले दो दशक में जो इमारतें बनें वो कम से कम 200 मील प्रति घंटा की रफ्तार से चल रही हवाओं को झेल सकें. सभी सार्वजनिक स्थानों को पहले से तैयार रखा गया था.”
उन्होंने बताया “हमने पिछले 72 घंटों में नालों की सफाई करवाई है ताकि बाढ़ का पानी बह जाए और कहीं न रुके. तूफान को देखते हुए लोगों की तैयारी अच्छी थी इसलिए जान-माल का कम से कम नुकसान हुआ है.”
बारबुडा की रहने वाली एक महिला ने एक स्थानीय टीवी स्टेशन एबीएस टीवी 10 को बताया, “पूरा घर टूट गया. मेरी बेटी ने पूछा कि क्या होगा. हमने 9-1-1 पर कॉल किया. उसने कॉल किया तो वहां से बताया गया कि बाथरूम में चली जाएं. और हमने वही किया. पूरा घर टुकड़-टुकड़े हो रहा था. हमने बाथरूम का दरवाज़ा पकड़ा था. मैं बच्चों से कहा कि बचने के लिए प्रार्थना करो.”
फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने कहा है कि इस तूफ़ान के कारण हताहतों की संख्या बढ़ने की आशंका हैं, सेंट मार्टिन और सेंट बारट्स पर इरमा का असर “बहुत मुश्किल और क्रूर” होगा.
ये भयंकर तूफ़ान इरमा अब पश्चिम में प्यूर्टो रिको और डोमिनिकन रिपब्लिक की तरफ़ बढ़ रहा है. इस प्यूर्टो रिको में भारी बारिश हुई है और तेज़ गति से हवाएं चली हैं.
कई द्वीपों के बीच संपर्क टूट गया है. इरमा को बारबुडा तट से टकराए कई घंटों हो चुके हैं लेकिन इन द्वीपों से संपर्क नहीं होने की वजह से अधिक जानकारी नहीं मिल पा रही है.
इस बीच इस हफ्ते के अंत में इस तूफ़ान के अमरीका पहुंचने की संभावना के चलते फ्लोरिडा के पश्चिमी इलाके को अनिवार्य रूप से खाली कराने के आदेश दिए गए हैं.
अमरीका के फ्लोरिडा, प्यूर्टो रिको और अमरीकी वर्जिन आईलैंड में तूफ़ान के पहुंचने से पहले राहत टीमें भी लगा दी गई हैं.
जहां टेक्सस और लुइज़ियाना अभी भी चक्रवात हार्वी के असर से उबरने की कोशिश में लगे हैं वहीं अभी ये साफ नहीं है इरमा की ज़द में ये दोनों राज्य भी आएंगे या नहीं.
-BBC