यूपी के बड़े अस्पतालों और डॉक्टरों के घर Income Tax के छापे, मचा हड़कंप

लखनऊ, नोएडा, गाजियाबाद और मेरठ समेत कई शहरों में Income Tax के अचानक छापों से डॉक्‍टरों में अफरातफरी

लखनऊ। Income Tax ने गुरुवार यूपी के कानपुर सहित अन्य छह जिलों में छापेमारी की तो कारोबारियों में खलबली मच गई।
यूपी के लखनऊ, नोएडा, गाजियाबाद और मेरठ समेत कई शहरों में आयकर विभाग की टीम ने छापा मारा है।

इस बार Income Tax की 8 टीमों ने डॉक्टरों व अस्पतालों को निशाने पर लेकर छापे डाले हैं। आयकर विभाग की 8 टीमों ने सुबह 8 बजे से एक साथ सभी ठिकानों पर छापे मारे। अचानक हुई इस कार्यवाही से प्रदेश भर में हड़कंप मचा हुआ है।

विभाग के सूत्रों की माने तो आयकर अधिकारियों को डॉक्टरों और अस्पतालों के पास अघोषित आय और बिना सरकारी जानकारी दिए निवेश की सूचना मिली थी। जिसके बाद से आठ डॉक्टर और उनके अस्पताल इनकम टैक्स टीम के निशाने पर थे। टीम को लेखा पुस्तकों में भी छेडख़ानी के संकेत मिले हैं। गुरुवार सुबह आयकर विभाग की आठ टीमों ने प्रदेश में एक साथ चिह्नित डॉक्टरों पर कार्रवाई शुरू की।जिसके बाद प्रदेश भर के कारोबारियों में दहशत का माहोल है।

इन सभी डॉक्टरों के बारे में आयकर की टीमें काफी दिनों से जानकारी जुटा रही थीं। पर्याप्त जानकारी होने के बाद आयकर विभाग ने गुरुवार को छापा मारा। प्रधान निदेशक आयकर जांच अमरेंद्र कुमार के निर्देशन में सभी स्थानों पर सहायक निदेशक ने कार्रवाई शुरू की। कानपुर जिले के कल्याणपुर स्थित एसपीएम हॉस्पिटल में भी इनकम टैक्स की टीम ने छापा मारा है। टीम सुबह से जरूरी कागजात के साथ लेखा जोखा जांच रही है। लखनऊ के चरक हॉस्पिटल में छापे मारी जारी है।

एससपीएम की लखनऊ स्थित ब्रांच पर भी टीम ने छापा मारा है। किसी को कानो कान खबर न हो इसलिए सुबह 8 बजे एक साथ टीमों ने छापा मारने की कार्रवाई शुरु की है। लखनऊ के एक हास्पिटल, मुरादाबाद की एक पैथालॉजी, मेरठ के न्यूरो फिजिशियन, नोएडा के एक हास्पिटल के दो डॉक्टरों के यहां छापा मारा गया है। हापुड़ में एक सरकारी हास्पिटल के डॉक्टर के यहां भी आयकर टीम ने कार्रवाई की है। इन सभी जगहों पर छापेमारी की कार्रवाई अभी जारी है।

कानपुर में 30 नवंबर को आयकर विभाग ने दो डॉक्टर भाइयों के घरों और हास्पिटल में छापे मारे थे। छापों में दोनों ही आवासों से आयकर विभाग को बंद हो चुकी करंसी हासिल हुई थी। मामले में आयकर विभाग ने दोनों प्रकरण में मुकदमा दर्ज किया था। इसी छापे से जोड़ते हुए एक रीयल इस्टेट कारोबारी के यहां भी छापा मारा गया था।

डॉ. महेश चंद्र शर्मा, एसपीएम हास्पिटल एंड ट्रामा सेंटर, कानपुर। डॉ. महेश चंद्र शर्मा, एसआइपीएस हास्पिटल, लखनऊ। डॉ. रतन कुमार सिंह, चरक हास्पिटल लखनऊ। डॉ. प्रेम कुमार खन्ना, जेपीएमसी पैथ लैब, मुरादाबाद। डॉ. भूपेंद्र सिंह न्यूरो फिजिशियन मेरठ। डॉ. राजीव मोटवानी, नियो हास्पिटल नोएडा। डॉ. गुलाब गुप्ता, नियो हास्पिटल, नोएडा। डॉ. अंकित शर्मा, जीएस मेडिकल कालेज एंड हास्पिटल, पिलखुआ, हापुड।

आयकर विभाग इस समय बड़े पैमाने पर डॉक्टरों के खिलाफ छापेमारी कर रही है।

राजधानी लखनऊ में चरक अस्पताल के मालिक रतन सिंह के घर और अस्पताल में सहित कई ठिकानों पर आयकर विभाग की टीम ने छापा मारा। इसके अलावा, आयकर विभाग इस समय बड़े पैमाने पर मेरठ के डॉक्टर भूपेंद्र समेत कई अन्य बड़े डॉक्टरों के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है।

यूपी के इन डॉक्टरों के यहां आयकर ने की छापेमारी

– डॉ. महेश चंद्र शर्मा के एसपीएम अस्पताल व ट्रॉमा सेंटर, कानपुर एवं लखनऊ।
– डॉ. रतन कुमार सिंह के घर व पैथालॉजी सहित कई स्थानों पर लखनऊ में।
– प्रेम कुमार खन्ना, जेपीएमसी अस्पताल व पॉथ लैब, मुरादाबाद।
– भूपेंद्र चौधरी, न्यूरोफिजीशियन, मेरठ।
– डॉ. राजीव मोतियानी, डॉ. गुलाब गुप्ता, निओ अस्पताल, नोएडा।
– डॉ अंकित शर्मा, जीएस मेडिकल कॉलेज व अस्पताल, पिलखुवा, हापुड़।

-Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *