Ringtones को ध्यान में रखकर म्यूजिक बनाने से भला गाने कैसे अच्छे बनेंगे: Rishi Kapoor

मुंबई। बॉलिवुड अभिनेता Rishi Kapoor ने कहा कि अब ringtones को ध्यान में रखकर म्यूजिक बनाने से भला गाने कैसे अच्छे बनेंगे।
इन दिनों अपनी रिलीज़ के लिए तैयार फिल्म ‘पटेल की पंजाबी शादी’ के प्रमोशन में बिजी हैं। ऋषि कपूर एक सवाल के जवाब में फिल्म इंडस्ट्री में म्यूजिक कंपनी की गुंडागर्दी पर जोरदार भड़के।

अपने बेबाक अंदाज के लिए मशहूर ऋषि कपूर ने कहा कि वह कई ऐसे लोगों से मिलते हैं जो म्यूजिक कंपनी की गुंडागर्दी से फ़्रस्ट्रेट हो गए हैं। म्यूजिक कंपनी कलाकारों का शोषण कर रही है। वह सिंगर के साथ ऐसे कॉन्ट्रैक्ट बनाती है जिससे वह परेशान हो जाते हैं।

ऋषि कपूर ने कहा, ‘आज आप गाने सुनते नहीं देखते हैं। हमारे जमाने में हम गाने बनाकर दर्शकों को सुनाते थे। आज म्यूजिक कंपनी के पास अच्छे गीत लेकर जाओ तो वह कहते हैं कि इस तरह के गानों का रिंगटोन नहीं बनता है।

अब रिंगटोन जैसी चीजों को ध्यान में रखकर म्यूजिक बनाना पड़ता है। ऐसे में भला गाने कैसे अच्छे बनेंगे। संगीत के क्षेत्र में अच्छा काम न होने से म्यूजिक डायरेक्टर और गीतकार परेशान हैं, मुझसे कई लोग कहते हैं कि हमें वह काम नहीं मिलता जो हम करना चाहते हैं और दर्शक हम कलाकारों को गालियां देते हैं कि हम बुरा काम कर रहे हैं।’

बिना किसी म्यूजिक कंपनी का नाम लिए उनके कामकाज के तरीकों पर जोरदार भड़के Rishi Kapoor ने आगे कहा, ‘कुछ म्यूजिक कंपनी की तो इतनी ज्यादा गुंडागर्दी हो गई है कि वह गायकों और म्यूजिक निर्देशकों से एक ऐसा कॉन्ट्रैक्ट साइन करवा लेती है, जिसमें वह आजादी से काम नहीं कर पाते हैं। उनको सिर्फ शो करने के ही पैसे मिलते हैं। जो सिंगर म्यूजिक कंपनी की बात नहीं मानते हैं, उनको कहीं भी काम नहीं मिलता है। किसी सिंगर का पहले से गाया कोई गाना अगर म्यूजिक कंपनी की पसंद के सिंगर ने नहीं गाया है तो उसे वह दूसरे सिंगर से डब करवा लेते हैं।’

अपनी फिल्म ‘पटेल की पंजाबी शादी’ के बारे में बात करते हुए Rishi Kapoor ने कहा कि वह सही मायनों में पहली बार परेश रावल के साथ काम कर रहे हैं। इससे पहले वह जिन फिल्मों में परेश के साथ थे, उनमें परेश रावल की बहुत छोटी भूमिका थी। उनकी इस फिल्म में काम करने की एक सबसे बड़ी वजह है कि उन्हें परेश रावल के साथ बराबरी के रोल में काम करना था।

फिल्म की कहानी एक पंजाबी (ऋषि कपूर) और एक गुजराती (परेश रावल) की है। जिसमें परेश रावल की बेटी (पायल घोष) और ऋषि कपूर का बेटा (वीर दास) एक दूसरे से प्यार करते हैं। फिल्म का निर्देशन संजय छेल ने किया है। Rishi Kapoor की यह फिल्म 15 सितंबर को सिनेमाघरों में रिलीज़ होगी।
-एजेंसी