कार्यवाही न होने से निराश पीड़िता गैंगरेप का वीडियो लेकर एसएसपी के पास पहुंची

मेरठ पुलिस के उच्‍च अधिकारियों को उस वक्त असहज स्थिति का सामना करना पड़ा, जब कार्यवाही न होने से निराश एक महिला अपने ही गैंगरेप का वीडियो लेकर एसएसपी ऑफिस जा पहुंची। पीड़िता के मुताबिक उसके गैंगरेप का वीडियो वायरल होने के बावजूद पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी रही।
उक्‍त महिला के साथ गत 17 फरवरी को मेरठ के परीक्षितगढ़ क्षेत्र में तीन लोगों ने रेप किया और अपने मोबाइल से उसके गैंगरेप का वीडियो भी बनाया। आरोपियों ने महिला को धमकी भी दी कि अगर वह पुलिस के पास जाएगी तो वे उसे इसका ‘अंजाम’ भुगतना पड़ेगा।
इसके बाद महिला पुलिस के पास गई और आरोपियों को गिरफ्तार करने की गुहार लगाई ताकि वे उसका वीडियो वायरल न कर पाएं लेकिन पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की। उल्‍टे महिला के पुलिस के पास जाने की जानकारी मिलते ही आरोपियों ने उसका वीडियो सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर अपलोड कर दिया।
मंगलवार को महिला अपने रेप का वीडियो लेकर एसएसपी ऑफिस पहुंची। रेप पीड़िता ने कहा, ‘आरोपी लगातार मेरे परिवार को मामले को रफा-दफा करने के लिए धमकियां दे रहे हैं। जो मेरे साथ हुआ, उसे बदला तो नहीं जा सकता लेकिन कम से कम पुलिस उस वीडियो को वायरल होने से तो रोक ही सकती थी।’ अभी तक महिला का बयान मजिस्ट्रेट के सामने भी रिकॉर्ड नहीं किया गया है।
महिला ने दावा किया कि वह कई बार स्थानीय थाने में गई लेकिन पुलिस ने उसकी शिकायत पर ध्यान नहीं दिया।
पुलिस के मुताबिक 17 फरवरी को ही अनीस अंसारी, शादाब और फरियाद नामक आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई थी लेकिन बाद में पीड़िता की इच्छा के मुताबिक मामले को क्राइम ब्रांच को सौंप दिया गया।
एसपी (ग्रामीण) अविनाश पांडे ने कहा, ‘मामला क्राइम ब्रांच के पास पेंडिंग है। मैंने डिपार्टमेंट के अधिकारियों से बात करके कड़े निर्देश दिए हैं कि आरोपियों को गिरफ्तार करके मामले की जांच जल्द से जल्द पूरी की जाए।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »