हनीप्रीत ने सीज खाता खुलवाने के लिए jail प्रशासन को लिखा पत्र

पंचकूला। साध्वी रेप केस में सजा काट रहे राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत ने jail प्रशासन को एक लेटर (Letter) लिखा है। हनीप्रीत अंबाला जेल में बंद है, उसके पास कोर्ट में अपना केस लड़ने के लिए भी पैसे नहीं हैं। उसने जेल प्रशासन को लेटर लिखा है, जिसमें कहा है कि वह इस समय आर्थिक तंगी में है। और ऐसे में उनके सील किए गए बैंक अकाउंट खोले जाएं।

हनीप्रीत ने कहा है कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो वह प्राइवेट वकील हायर नहीं कर पाएगी क्योंकि उसके पास वकील को देने के लिए पैसे ही नहीं हैं।

पंचकूला में हिंसा की साजिश रचने और देशद्रोह के केस दर्ज होने के बाद हनीप्रीत 38 दिन तक फरार रही थी। उसके बाद पंजाब से गिरफ्तार हुई थी। इस दौरान वह हरियाणा, पंजाब, राजस्थान और दिल्ली में रही थी। इसी बीच पुलिस ने डेरे के बैंक खातों के साथ ही हनीप्रीत के भी 3 बैंक खाते कोर्ट के जरिए सील करवा दिए थे।

 

हनीप्रीत ने अंबाला jail प्रशासन को लिखा है कि उसके तीन बैंक अकाउंट हैं, जिन्हें पुलिस ने सील किया हुआ है। इस वजह से वह रुपए नहीं निकाल सकती। ऐेसे में वो अपने केस की पैरवी कैसे कर सकती है। लिहाजा उसके बैंक अकाउंट्स को खोला जाए, ताकि वह अपने वकीलों को फ़ीस देकर कोर्ट में अपना केस लड़ सके।

हनीप्रीत ने jail प्रशासन से गुहार लगाई है कि मेरे केस में पंचकूला SIT ने कोर्ट में चार्जशीट पेश कर दी है। केस कोर्ट ट्रायल पर आ गया है और मेरे पास केस लड़ने के लिए पैसे नहीं हैं। इसलिए मेरे तीनों सीज बैंक खातें खुलवाए जाएं।

– एजेंसी