बिहार में चिपकाए गए गुरमीत की हनी के पोस्टर्स

नेपाल से सटे बिहार के सात-आठ जिलों में हनीप्रीत के पोस्टर्स भी चिपकाए गए हैं। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत इंसां को पकड़ने के लिए हरियाणा पुलिस हर जतन कर रही है लेकिन उसे अब तक कामयाबी नहीं मिली है। पुलिस को शक है कि हनीप्रीत बिहार के रास्ते नेपाल भी भाग सकती हैं। ऐसे में मदद के लिए हरियाणा पुलिस ने बिहार पुलिस से संपर्क साधा है।
नेपाल से सटे बिहार के सात-आठ जिलों में पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है और खास निर्देश दिए गए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इन इलाकों में हनीप्रीत के पोस्टर्स भी चिपकाए गए हैं। 5 अगस्त के बाद से हनीप्रीत इंसां की कोई सूचना नहीं मिली है। हनीप्रीत पर आरोप है कि उसने साध्वियों से रेप के दोषी राम रहीम को पुलिस कस्टडी से छुड़ाने की साजिश रची थी।
भारत-नेपाल सीमा पर तलाशी और सख्ती के बाद भी हनीप्रीत का कोई सुराग नहीं मिला है। पुलिस अब हनीप्रीत और आदित्य को लेकर रॉ समेत दूसरी एजेंसियों के भी संपर्क में है।
सूत्रों के अनुसार पुलिस जल्द ही डेरे की प्रबंधन कमेटी पर शिकंजा कस सकती है और उन्हें जांच में शामिल किया जा सकता है। इस कड़ी में इन दिनों डेरे का काम संभाल रही बिपासना से भी पूछताछ शुरू की जा सकती है। बिपासना ही गुरमीत राम रहीम के जेल जाने के बाद से डेरे का पूरा कामकाज संभाल रही है। डेरे में चले सर्च ऑपरेशन से पहले और बाद तक वही पुलिस के साथ तालमेल की जिम्मेदारी देख रही थी।
इससे पहले हनीप्रीत की तलाश में बुधवार को पंचकूला पुलिस ने सिरसा में कई जगहों पर छापेमारी की थी। पुलिस की टीम ने डेरे से जुड़े कई लोगों से भी पूछताछ की थी। इनसे पूछताछ में पुलिस ने हनीप्रीत और आदित्य इंसा के छिपने के ठिकानों के बारे में सुराग लेने का प्रयास किया।
बढ़ रहा है जांच का दायरा
हरियाणा में राम रहीम को दोषी सुनाए जाने के बाद हिंसा की जांच में जुटी हरियाणा पुलिस की जांच का दायरा लगातार बढ़ रहा है। अब तक हुई गिरफ्तारियों और पूछताछ के दौरान सामने आ रहे तथ्यों से पुलिस की जांच राज्य से बाहर भी फैल रही है। पुलिस इस मामले में दूसरे राज्यों के भी संपर्क में होने का दावा कर रही है।
बहरहाल, डीजीपी संधू के अनुसार 25 अगस्त को डेरा प्रमुख राम रहीम के साथ पंचकूला तक पहुंची करीब 170 गाड़ियों में से पुलिस ने 65 गाड़ियों को कब्जे में लिया था और उनमे से कई गाड़ियां महंगी लग्जरी हैं। डीजीपी ने बताया कि सभी गाड़ियों के मालिकों को पुलिस ने नोटिस भेज कर जांच के लिए बुलाया है।
उन्होंने खुलासा किया कि 25 अगस्त को डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को पंचकूला की सीबीआई अदालत से भगाने की कोशिश में पंजाब पुलिस के कुल 8 कर्मचारी शामिल थे। हरियाणा पुलिस ने इनमें से 3 को गिरफ्तार कर लिया है। इनमें से एक पुलिस रिमांड पर जबकि 2 न्यायिक हिरासत में हैं।
-एजेंसी