राजकीय महाविद्यालय माँट में हिन्दी सप्ताह समारोह सम्पन्न

माँट/मथुरा। राजकीय महाविद्यालय माँट में आज हिन्दी सप्ताह समारोह का समापन कार्यक्रम हुआ।

 

कार्यक्रम का शुभारम्भ प्राचार्य डॉ. मीनाक्षी वाजपेयी तथा प्राध्यापकों ने आधुनिक हिन्दी भाषा-साहित्य के प्रणेता और महान साहित्यकार भारतेन्दु हरिश्चन्द्र के चित्र के समक्ष पुष्पांजलि अर्पित करके किया।

दिनांक 08.09.2018 से 14.09.2018 तक आयोजित हिन्दी सप्ताह में विभिन्न साहित्यकारों के रेखाचित्रों, उद्धरणों, हिन्दी भाषा-साहित्य से सम्बद्ध तथ्यों आदि की आकर्षक प्रदर्शनियों के साथ सप्ताह भर चले इस कार्यक्रम में काव्य-पाठ, आशु-भाषण एवं निबन्ध-लेखन प्रतियोगिताओं तथा हिन्दी साहित्येतिहास एवं साहित्यकारों पर केन्द्रित व्याख्यानों का आयोजन किया गया। इस अवसर पर बी.ए. प्रथम वर्ष के हिन्दी पाठ्यक्रम में सम्मिलित जयशंकर प्रसाद के प्रसिद्ध नाटक ध्रुवस्वामिनी के फिल्म प्रारूप का भी प्रदर्शन किया गया जिसकी विद्यार्थियों तथा प्राध्यापकों ने विशेष सराहना की।

कार्यक्रम के अन्त में घोषित प्रतियोगिता परिणामों के अनुसार काव्य-पाठ में दामिनी तिवारी (बी.ए. तृतीय वर्ष) एवं रश्मि उपाध्याय (बी.ए. तृतीय वर्ष) ने प्रथम, धनराज सैनी (बी.ए. प्रथम वर्ष) ने द्वितीय, अदिति (बी.ए. प्रथम वर्ष) ने तृतीय; आशु-भाषण में रश्मि उपाध्याय (बी.ए. तृतीय वर्ष) ने प्रथम, दामिनी तिवारी (बी.ए. तृतीय वर्ष) ने द्वितीय, हिमानी जायस (बी.ए. द्वितीय वर्ष) ने तृतीय तथा निबन्ध-लेखन में हिमानी जायस (बी.ए. द्वितीय वर्ष) ने प्रथम, विनीता चैधरी (बी.ए. प्रथम् वर्ष) ने द्वितीय, रेखा (बी.ए. तृतीय वर्ष) एवं छाया (बी.ए. तृतीय वर्ष) ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

अपने सम्बोधन में प्राचार्य डाॅ. मीनाक्षी वाजपेयी ने मातृभाषा को मानवीय भावों की सहज अभिव्यक्ति का एकमात्र एवं अनिवार्य माध्यम बताया तथा हिन्दी भाषा की वर्तमान दुर्दशा के कारणों की समीक्षा करते हुए उनके निराकरण के उपाय सुझााए। अन्त में उन्होंने सभी को हिन्दी दिवस की शुभकामना देते हुए विद्याथियों से महान हिन्दी साहित्यकारों की रचनाओं में निहित ज्ञान को आत्मसात करने का आग्रह किया। इस अवसर पर डाॅ. सुरेन्द्र सिंह, डाॅ. जीत सिंह, डाॅ. अरुण कुमार, डाॅ. नेत्रपाल सिंह, डाॅ. चन्द्रशेखर दिवाकर, डाॅ. सत्येन्द्र सिंह, डाॅ. विवेक सिंह, डाॅ. रामवीर सिंह आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किये।

कार्यक्रम का कुशल संयोजन एवं संचालन हिन्दी विभागाध्यक्ष डाॅ. राजेश कुमार ने किया। इस अवसर पर महाविद्यालय के समस्त प्राध्यापक, कर्मचारी तथा बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएँ उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »