हिंदी अकादमी के उपाध्यक्ष विष्णु खरे का ब्रेन हेमरेज के बाद निधन

नई दिल्‍ली। हिंदी अकादमी के उपाध्यक्ष विष्णु खरे का निधन हो गया है। उन्हें बुधवार को ब्रेन हेमरेज के बाद दिल्ली के जीबी पंत सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में भर्ती कराया था जहां आज उन्होंने आखिरी सांस ली। डॉक्टरों की मानें तो उनकी हालत नाजुक बनी हुई थी।
अस्पताल प्रबंधन के मुताबिक विष्णु खरे के उपचार में कई वरिष्ठ डॉक्टरों की टीमें तैनात की गई थी। वे आईसीयू में रखे गए थे। न्यूरो सर्जरी विभाग के दो वरिष्ठ अधिकारी उनकी मॉनिटरिंग कर रही थी।
हिंदी अकादमी का उपाध्यक्ष बनने के बाद कुछ दिन से दिल्ली में रह रहे सुप्रसिद्ध कवि एवं पत्रकार विष्णु खरे को नाइट ऑफ द व्हाइट रोज सम्मान, हिंदी अकादमी साहित्य सम्मान, शिखर सम्मान, रघुवीर सहाय सम्मान, मैथिलीशरण गुप्त सम्मान से नवाजा जा चुका है।
मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में जन्मे विष्णु खरे कवि के साथ ही अनुवादक, फिल्म आलोचक, पटकथा लेखक और पत्रकार भी रहे हैं। वे मयूर विहार के हिंदुस्तान अपार्टमेंट में किराए के एक कमरे में अकेले रहते थे।
उन्होंने इंदौर के क्रिश्चियन कॉलेज से अंग्रेजी साहित्य में एमए करने के बाद हिंदी पत्रकारिता से अपने करियर की शुरुआत की। वे कुछ समय तक ‘दैनिक इन्दौर’ में उप संपादक रहे और बाद में उन्होंने दिल्ली, लखनऊ और जयपुर में नवभारत टाइम्स के संपादक का काम संभाला।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »