हाईकोर्ट का आदेश, टूटेगा आगरा के Saket Mall का अवैध निर्माण

आगरा। अवैध निर्माण के ख‍िलाफ हाईकोर्ट के आदेश के बाद अब आगरा स्थ‍ित Saket Mall का अवैध ह‍िस्सा तोड़ा जाएगा। एडीए ने नोटिस दे दिया है, अब गांधी नगर में सर्विस रोड पर बने मॉल का 297.79 वर्ग मीटर हिस्सा टूटेगा।

एडीए अफसरों की लापरवाही से नेशनल हाईवे-19, गांधी नगर स्थित साकेत मॉल में 297.79 वर्ग मीटर हिस्सा अवैध निर्माण में आ गया, ये अशमनीय क्षेत्र है। प्रयागराज हाईकोर्ट के आदेश पर एडीए ने तीस दिनों के भीतर अवैध निर्माण को तोड़ने के आदेश दिए हैं, न तोड़ने पर एडीए कार्रवाई करेगा जिसका हर्जाना वसूला जाएगा।

साकेत मॉल भूखंड संख्या 74, 75 व 76 में है। इसका नक्शा 12 अक्टूबर 2015 में पास हुआ था। नक्शे के विपरीत निर्माण करने पर बृजेश कुमार दुबे और देवेंद्र सिंह यादव को नोटिस जारी किया गया। यह नोटिस एक नवंबर 2018 में जारी हुआ था। नोटिस का जवाब नहीं दिया गया। इसकी शिकायत सुधीर गोयल ने की थी। फिर नियम ने कागजी कार्रवाई की और मौके पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। यहां तक शमन के लिए आवेदन किया गया। छह अगस्त 2019 को संचालक ने एडीए में प्रार्थना पत्र दिया, जिसमें रेस्टोरेंट और हाल का आंशिक हिस्सा तोड़ने की बात कही। शमन स्वीकृति दे दी गई लेकिन कुछ हिस्से की नहीं मिली। इस पर हाईकोर्ट ने कार्रवाई के आदेश दिए। कोर्ट से आदेश पर एडीए ने कार्रवाई शुरू की है। संयुक्त सचिव एडीए सोमकमल ने बताया कि अवैध निर्माण को तोड़ने के लिए कहा गया है।

श्रीनाथ कॉम्प्लेक्स पर फिर से खुली दुकानें

मदिया कटरा तिराहा स्थित श्रीनाथ कॉम्प्लेक्स में हाईकोर्ट के आदेश पर कार्रवाई हुई थी। पार्किंग स्थल पर दर्जनभर अवैध दुकानें खुल गईं, जबकि दो से तीन फ्लैट भी बने हुए हैं। जांच में एडीए के 22 इंजीनियर दोषी मिले थे। वहीं एडीए अफसरों की लापरवाही से फिर से दुकानें खुल गई हैं।

कई जगह सड़कों पर कर लिए कब्‍जे

आगरा विकास प्राधिकरण की नजरअंदाजी का आलम कुछ ऐसा है कि कई जगहों पर सड़कों पर कब्‍जे कर लोगों ने अवैध्‍ा निर्माण कर लिए हैं। एडीए से स्‍वीकृत मानचित्र से इतर निर्माण हो रहा है। आसपास के लोग इनकी शिकायत करते हैं तो मौके पर पहुंची टीम सुविधा शुल्‍क लेकर बिना कार्यवाही किए वापस लौट आती है।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *