High Court ने डेरा सच्चा सौदा के मुख्यालय की तलाशी की इजाजत दी

चंडीगढ़। पंजाब और हरियाणा High Court ने डेरा सच्चा सौदा के मुख्यालय की तलाशी की इजाजत दे दी है। High Court ने मंगलवार को आदेश दिया है कि सिरसा स्थित डेरा के हेडक्वॉर्टर में सर्च ऑपरेशन किसी जुडिशल अफसर की निगरानी में चलाया जाए।

 

अदालत ने रिटायर्ड जज केएस पवार को तलाशी अभियान के लिए कोर्ट कमिश्नर नियुक्त किया है। वह एक सीलबंद लिफाफे में High Court को अपनी रिपोर्ट सौंपेंगे। इससे पहले सोमवार को डेरा सच्चा सौदा सिरसा की ओर से सदर पुलिस थाने में 33 लाइसेंसी हथियार जमा कराए गए थे। इन हथियारों में 14 रिवॉल्वर, 9 गन, 4 राइफलें और अन्य मॉडीफाइड हथियार भी शामिल हैं। पुलिस ने सोमवार को इन सभी हथियारों को सील कर दिया।

सदर थाना सिरसा की एसएचओ दिनेश कुमार ने यह जानकारी देते हुए बताया कि डेरा सच्चा सौदा प्रबंधन की ओर से पुलिस को दी गई 67 लाइसेंसी हथियारों की लिस्ट में से 33 हथियार जमा हो गए हैं। डेरा के 10 लाइसेंसधारी हथियारों के लाइसेंस रद्द भी हो चुके हैं। डेरा समर्थकों में से कुछ के पास लाइसेंसी हथियार भी हो सकते हैं। उनकी डीटेल आना अभी बाकी है।

हालांकि, ऐसा कहा जा रहा है कि डेरे के पास 500 से ज्यादा लाइसेंसी हथियार थे। अगर ऐसा था तो सिर्फ 67 हथियार क्यों जमा कराए गए?

सिरसा के डीएम प्रभजोत सिंह की ओर से एक आदेश पारित कर लाइसेंसी हथियार एक सितंबर शाम तक थाने में जमा करवाने का आदेश दिया गया था। हथियारों को थाने में जमा कराने और बैंक डीटेल उपलब्ध कराने के लिए डेरा प्रबंधन और जिला प्रशासन के बीच शुक्रवार को बैठक हुई थी, जिसमें डेरे की ओर से जवाब दिया गया।

गौरतलब है कि साध्वी यौन शोषण मामले में डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को पंचकूला की सीबीआई कोर्ट ने 20 साल जेल की सजा सुनाई है। 25 अगस्त से वह रोहतक की सुनारिया जेल में बंद हैं। उनको सजा सुनाए जाने के बाद पंचकूला और सिरसा में बड़े पैमाने पर हिंसा हुई थी, जिसमें 38 लोगों की मौत हो गई थी।

सोमवार को डेरा सच्चा सौदा सिरसा की ओर से सदर पुलिस थाने में 33 लाइसेंसी हथियार जमा कराए गए थे। इन हथियारों में 14 रिवॉल्वर, 9 गन, 4 राइफलें और अन्य मॉडीफाइड हथियार भी शामिल हैं। पुलिस ने सोमवार को इन सभी हथियारों को सील कर दिया।

High Court ने  इसकी  गंभीरता  को  समझते  हुए ये  ऑर्डर  दिए  हैं । -एजेंसी