Hema ने अमरनाथ में किया ओपेरा हाउस का उद्घाटन

Hema Malini की माताजी स्व. जया चक्रवर्ती स्मृति नृत्य एवं संगीत शोध कक्ष’’
सांसद हेमा मालिनी ‘‘नारी रत्न सम्मान’’ से सम्म्मानित

मथुरा। जनपद की प्रमुख आवासीय शिक्षण संस्था अमर नाथ विद्या आश्रम सीनियर सेकेण्ड्री स्कूल में सुविख्यात सिने कलाकार एवं मथुरा की सांसद Hema Malini ने अपनी माताजी स्व. जया चक्रवर्ती की स्मृति में बने भव्य नृत्य एवं संगीत शोध कक्ष का उद्घाटन मंत्रोच्चारण के मध्य फीता काट कर किया इस अवसर पर उन्होंने अपनी माता जी के छायाचित्र का अनावरण भी किया ।

Hema Malini inaugurated the Music Room 'Opera House' at Amar Nath Vidya Ashram
Hema Malini inaugurated the Music Room ‘Opera House’ at Amar Nath Vidya Ashram

इस अवसर पर अमर नाथ शिक्षण संस्थान के मातृकृपा आॅडिटोरियम में संस्था की छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किये गये, जिनमें छात्रा शुभांगी, शशांकी, चेतना, मानवी व अन्य ने शास्त्रीय नृत्य प्रस्तुत सांसद हेमामालिनी को अचंम्भित कर दिया । उन्होंने छात्राओं की नृत्य प्रस्तुतियों की भूरि-भूरि प्रशंसा करते हुये कहा कि विद्यालय के अनुशासित एवं आध्यात्मिक वातावरण ने उन्हें रोमांचित कर दिया है । उन्होंने विद्यालय प्रबन्धतंत्र की प्रशंसा करते हुये कहा कि अमर नाथ शिक्षण संस्थान ने उनकी मां के नाम पर संगीत कक्ष स्थापित किया है यह उनके लिये गौरव की बात है । उन्होंने कहा कि विद्यालय परिसर में उन्हें श्रीमां श्रीअरविन्द के आध्यात्म की अनुभूति हुई है ।

अमर नाथ शिक्षण संस्थान के चेयरमैन डा. आदित्य कुमार वाजपेयी ने कहा कि भारतीय नृत्य एवं संगीत का इतिहास काफी गौरवशाली है, इसी परम्परा को सहेजने के लिये एवं विद्यार्थियों को भारतीय संगीत एवं नृत्य का परिचय एवं प्रशिक्षण प्रदान करने के उद्देश्य से संगीत कक्ष (ओपेरा हाउस) की स्थापना की गई है, जहां विद्यार्थियों को भारतीय नृत्य एवं संगीत की नव प्रतिभाओं को मंच प्रदान करना एवं नृत्य-संगीत व साजों का श्रेष्ठ प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा । अमर नाथ गल्र्स डिग्री काॅलेज के प्राचार्य डा. अनिल वाजपेयी ने स्वागत भाषण प्रस्तुत किया तथा हेमा मालिनी जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुये कहा कि बचपन से ही प्रतिभाशाली Hema Malini जी की सफलता में उनकी माताजी का विशेष योगदान रहा है ।

अमर नाथ विद्या आश्रम के प्रधानाचार्य डा. अरूण कुमार वाजपेयी ने विद्यालय में स्व. जया चक्रवर्ती नृत्य एवं संगीत शोध कक्ष के महत्व को बताते हुये कहा कि विलुप्त होते संगीत के साजों का संग्रह एवं संरक्षण करना एवं बृज की विलुप्त होती लोक गायन कलाओं का संग्रहण एवं संरक्षण करना। उन्होंने बताया कि संगीत एवं नृत्य में गुरू-शिष्य की महान भारतीय परम्परा की पुनःस्थापना करना एवं विद्यार्थियों में पाश्चात्य संगीत एवं नृत्य की अपेक्षा भारतीय सांस्कृतिक कलाओं के प्रति अभिरूचियों का विकास करना । साथ ही ब्रज संस्कृति के वयोवृद्ध श्रेष्ठ कलाकारों का सम्मान करना है।

पूर्व में हेमा मालिनी जी के विद्यालय में पधारने पर सलामी बैण्ड की धुन पर विद्यार्थी पायलट उन्हें मार्चपास्ट करते हुये रेडकार्पेट पर संगीत कक्ष तक ले गये, जहां उन्होंने संगीत कक्ष का शुभारम्भ किया। अमर नाथ शिक्षण संस्थान के चेयरमैन डा. आदित्य कुमार वाजपेयी, अमर नाथ गल्र्स डिग्री काॅलेज के प्राचार्य डा. अनिल वाजपेयी, अमर नाथ विद्या आश्रम के प्रधानाचार्य डा. अरूण वाजपेयी, उप प्रधानाचार्य डा. अनुराग वाजपेयी, बैंक आॅफ बड़ौदा के वरिष्ठ अधिकारी अनीश वाजपेयी, पुस्तकालयाध्यक्षा मिथलेश वाजपेयी, मीता वाजपेयी, सितार की वरिष्ठ आकाशवाणी कलाकार एवं राजकीय महाविद्यालय की प्राचार्या डा. मीनाक्षी वाजपेयी, प्रबन्ध समति के सदस्य सतीश शर्मा, ग्रोइंग सोल किड्ज गुरूकुल की निदेशिका सोनिका शर्मा, सुयश वाजपेयी, शुभम वाजपेयी ने सांसद हेमा मालिनी जी को बुके, कलश, चुनरी, बुद्धा एवं श्रीकृष्ण की प्रतिमा, गैस्ट आॅफ आॅनर प्रदान कर ‘‘नारी रत्न सम्मान’’ से सम्मनित किया।

डा. अनुराग वाजपेयी ने सम्पूर्ण कार्यक्रम का संचालन किया। इस अवसर पर अमर नाथ शिक्षण संस्थान के सभी विद्यार्थी व शिक्षक विशेष रूप से उपस्थित रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »