स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कोरोना को मात देने वाले मरीजों के लिए जारी किया नया प्रोटोकॉल

नई दिल्‍ली। केंद्र सरकार ने कोरोना से ठीक होने वाले मरीजों के लिए नया प्रोटोकॉल जारी किया है। स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय के अनुसार रिकवर मरीजों में थकान, बदन दर्द, खांसी, सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्‍याएं देखने को मिल सकती हैं। इसी को देखते हुए मंत्रालय ने ‘पोस्‍ट कोविड मैनेजमेंट प्रोटोकॉल’ तैयार किया है। इसमें रिकवर हो चुके कोरोना मरीजों के लिए कई निर्देश और सुझाव हैं। मंत्रालय ने ठीक होने के बाद मरीजों को गर्म पानी के साथ एक चम्‍मच च्‍यवनप्राश का सेवन करने का सुझाव दिया है। इसके अलावा उसने योग करने को भी कहा गया है।
कोरोना को मात देने के बाद भी रखें इन बातों का ध्‍यान
कोविड से जुड़ी सावधानियों (मास्‍क, फिजिकल डिस्‍टेंसिंग, हैंड हाइजीन) का पालन करते रहें।
पर्याप्‍त मात्रा में गर्म पानी पीएं।
इम्‍युनिटी बढ़ाने वाली आयुष दवाएं लें।
बैलेंस्‍टड डाइट लें। आसानी से पचने वाला भोजन करें।
पर्याप्‍त नींद और आराम लें।
कोविड के लिए बताई गईं दवाइयां लें।
घर पर मॉनिटरिंग करते रहें। तापमान, ब्‍लडर प्रेशर, सुगर, पल्‍स ऑक्सिमेट्री पर नजर रखें।
अगर लगातार सूखी खांसी है तो नमक के पानी से गरारे करें या भाप लें।
तेज बुखार, सांस लेने में परेशानी, ऑक्सिजन लेवल 95% से कम होने, सीने में बेवजह दर्द उठने, बेचैनी पर डॉक्‍टर से संपर्क करें।
ठीक होने के बाद क्‍या करें, क्‍या न करें?
अगर स्‍वास्‍थ्‍य ठीक लगे तो घर के काम कर सकते हैं। ऑफिस जाने की शुरुआत धीमे-धीमे करें।
हल्‍की एक्‍सरसाइज करें।
डेली योगासन, प्राणायाम और ध्‍यान लगाने का अभ्‍यास करें।
सांस से जुड़ी एक्‍सरसाइज करें।
सेहत इजाजत दे तो सुबह या शाम में टहलने जाएं।
स्‍मोकिंग और शराब से दूर रहें।
मरीज को डिस्‍चार्ज किए जाने के 7 दिन के भीतर फॉलोअप होना चाहिए। अगर इसके बाद फॉलोअप की जरूरत पड़ती है तो नजदीकी डॉक्‍टर को रेफर किया जा सकता है। मंत्रालय ने अलग-अलग तरह की दवाइयां (एलोपैथी, आयुष) लेने से मना किया है। जो मरीज होम आइसोलेशन में रहे हैं, अगर उनके लक्षण गंभीर होते हैं तो उन्‍हें अस्‍पताल जाना चाहिए।
इम्‍युनिटी बढ़ाने वालीं AAYUSh दवाएं
आयुष क्‍वाथ (150ml; एक कप) रोज
संशमनी वटी (500 mg दिन में दो बार) या गिलोय पाउडर (1-3 ग्राम गर्म पानी के साथ) 15 दिन तक
अश्‍वगंधा (500 mg दिन में दो बार) या पाउडर (1 से 3 ग्राम रोज) 15 दिन तक
आंवला (1 रोज) या पाउडर (1 से 3 ग्राम रोज)
सूखी खांसी हो तो 1 से 3 ग्राम मुलेठी पाउडर गर्म पानी के साथ दिन में दो बार लें।
आधा चम्‍मच हल्‍दी के साथ गर्म मिल्‍क (सुबह या शाम में)
हल्‍की-नमक के पानी से गरारे
एक चम्‍मच च्‍यवनप्राश (सुबह) गर्म पानी के साथ।
नोट: यह सारी दवाइयां किसी रजिस्‍टर्ड प्रैक्टिशनर के प्रिस्‍क्राइब करने पर ही लें।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *