सोने में परेशानी है? तो चादर से बाहर पैर निकालकर सोएं

कोरोना के कारण लॉकडाउन लगने के बाद अनिद्रा ने अपने पांव भी पसार ल‍िए हैं, अन‍िद्रा एक क्रॉनिक समस्या है परंतु इसके ल‍िए एक अलग नुस्खा भी सामने आया है, जिसके जरिए आपको जल्द नींद आ सकती है।

जी हां, ये तरीका है चादर से एक पैर बाहर निकालकर सोना। जा हीं आपने बिल्कुल सही पढ़ा। क्या आपने कभी ध्यान दिया है कि जागने के बाद हम देखते हैं कि हमारे पैर चादर से बाहर निकले हुए होते हैं? जानना चाहते हैं क्यों? इससे जानने के लिए आपको ये लेख पढ़ना होगा तभी आप समझ पाएंगे कि ऐसा क्यों होता है। दरअसल रात को अच्छी नींद के लिए आदर्श तापमान लगभग 60-67 ° F होता है और हमारे पैर ही हमें अच्छी स्थिति में लाने में मदद करते हैं।

क्यों होता है पैर निकालकर सोना इतना आसान?
बेहतर तरीके से नींद लाने के लिए हमारे शरीर के तापमान को 1 से 2 डिग्री तक कम होने की आवश्यकता होती है और इसलिए हम गर्मी होने पर पर सोने के लिए संघर्ष करते हैं। इसलिए शरीर को ठंडा करना बहुत ही महत्वपूर्ण है, और कंबल से एक पैर बाहर निकालना इसका एक सरल उपाय है। जो लोग नहीं समझे उन्हें बता दें कि हमारे पैरों में विशेष संवहनी संरचनाएं होती हैं, जो पैरों को शरीर की गर्मी निकालने के लिए एक निकास बिंदु बनाती हैं। इसके अलावा, हमारे पैर बाल रहित होते हैं, इसलिए वे रात भर शांत रहते हैं और तापमान का भी एक सही संतुलन होता है।

क्या कहते हैं इस बारे में एक्सपर्ट
National Sleep Foundation के प्रवक्ता और अलबामा विश्वविद्यालय में मनोविज्ञान के प्रोफेसर नताली दाउतोविच के अनुसार, “हमारे पैर शरीर के तापमान को नीचे लाने के लिए बिल्कुल सही उपकरण हैं क्योंकि ये बाल रहित होते हैं और इनमें मौजूद संवहनी ऐसी संरचनाएं होती हैं, जो गर्मी को बाहर निकालने में मदद करती हैं । उन्होंने कहा कि अगर आपके पैर की उंगुली, या फिर आप अपना पैर चादर से बाहर निकाल लेते हैं तो आपको अधिक आराम से नींद आ सकती है।

सर्दियों में मोजा पहनकर इसलिए आती है नींद
यही कारण है हम सर्दियों में खुद को गर्म रखने के लिए  मोजा पहनते हैं, जिसके कारण हमें सर्दियों के दौरान सोने में मदद मिलती है। अब, आप जानते हैं कि क्यों हम सर्दियों के दौरान लंबे समय तक सोते हैं क्योंकि दिन छोटे और ठंडे होते हैं। यूनिवर्सिटी ऑफ पिट्सबर्ग स्कूल ऑफ मेडिसिन के एक अध्ययन के अनुसार, जब अनिद्रा से पीड़ित व्यक्ति एक प्रकार की कूलिंग कैप पहनते हैं तो उन्हें उन्हें स्वस्थ लोगों की ही तरह अच्छी नींद आती है। स्विट्जरलैंड स्थित सेंटर फॉर क्रोनोबायोलॉजी का कहना है कि जब आपके शरीर का तापमान कम हो जाता है तो हमारे नींद के समय की प्रणाली सक्रिय हो जाती है। कई शोध से पता चला है कि हमें सुबह 5 बजे के आसपास सबसे ठंडा तापमान मिलता है, इसलिए इस समय उठना सबसे ज्यादा मुश्किल होता है।

गर्म मौसम या रात को नींद न की स्थिति में अच्छी नींद के तरीके
साटन, रेशम, या पॉलिएस्टर कपड़े के बजाए कपास की चादरें और तकिया कवर का विकल्प चुनें। अगर आपके पास कपास की चादर नहीं है तो खरीद लें।
आप अपनी चादरें बिस्तर से कुछ मिनट पहले फ्रिज में रख सकते हैं।
गर्म पानी की बोतलों का उपयोग भी अलग तरीके से काम लाई जा सकती हैं। इन बोतलों को फ्रिज में रखें और इसे बिस्तर के पास आइस पैक के रूप में उपयोग करें।
आइस पैक को गर्दन, टखनों और कलाई जैसे नाड़ी बिंदुओं पर रखा जा सकता है।
रात को सोने से पहले ठंडा शॉवर भी आपको अच्छी नींद लाने में मदद करेगा क्योंकि यह शरीर के तापमान को नीचे लाएगा।

– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *