हरिद्वार कुंभ हर हाल में होगा, किसी कीमत पर नहीं किया जाएगा निरस्त

हरिद्वार। हरिद्वार में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में सर्वसम्मति से तय किया गया कि हरिद्वार कुंभ हर हाल में होगा। इसे किसी कीमत पर निरस्त नहीं किया जाएगा।
बुधवार को बैठक में परिषद के अध्यक्ष श्री महंत नरेंद्र गिरी, महामंत्री श्री महंत हरी गिरी समेत सभी 13 अखाड़ों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। बैठक के बाद अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री महंत नरेंद्र गिरि और महामंत्री श्री महंत हरि गिरि ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की बैठक में सर्वसम्मति से तय किया कि हरिद्वार कुंभ हर हाल में होगा। इसे किसी कीमत पर निरस्त नहीं किया जाएगा। कोरोना संक्रमणकाल को देखते हुए इसके स्वरूप को बड़ा या छोटा करने का निर्णय फरवरी में लिया जाएगा।
उन्होंने कहा कि विश्व हिंदू परिषद के पूर्व प्रमुख स्वर्गीय अशोक सिंघल को भारत रत्न देने की सिफारिश का प्रस्ताव भी अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद पारित किया। बताया कि बैठक में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के साथ 28 अगस्त को देहरादून में होने वाली बैठक के एजेंडे पर भी चर्चा की गई। संतों ने पांच सूत्रीय मांग को अंतिम रूप दिया गया। एजेंडे को कुंभ मेले अधिष्ठान के माध्यम से मुख्यमंत्री के पास भिजवा दिया गया।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *