पाकिस्‍तानी सेना के संरक्षण में रह रहा था Hamza बिन लादेन

नई दिल्‍ली। दुर्दांत आतंकवादी संगठन अलकायदा का सरगना रहे ओसामा बिन लादेन के बेटा Hamza पाक सेना की सुरक्षा में रह रहा था।
भारतीय रक्षा विशेषज्ञ एसपी सिन्हा ने कहा कि हो सकता है कि Hamza पाकिस्तानी सेना के संरक्षण में रह रहा हो। हमजा आखिरी बार 2018 में सार्वजनिक तौर पर देखा गया था।
शनिवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने Hamza के एक ऑपरेशन में मारे जाने की पुष्टि की थी। ट्रंप ने कहा कि इस हाई प्रोफाइल अलकायदा आतंकी को अमेरिका द्वारा आतंकवाद रोधी अभियान के दौरान मार दिया गया था।
ट्रंप ने कहा कि हमजा की मौत अफगानिस्तान-पाकिस्तान क्षेत्र में अमेरिका के आतंकवाद रोधी अभियान में हुई।
हालांकि, अमेरिकी राष्ट्रपति ने यह नहीं बताया कि हमजा की मौत असल में किस जगह और किन परिस्थितियों में हुई।
30 साल के हमजा का अंतिम बयान अल कायदा की मीडिया विंग ने 2018 में जारी किया था। इसमें उसने सऊदी अरब को धमकी दी थी। हमजा ने वहां के लोगों को सऊदी अरब के खिलाफ विद्रोह के लिए उकसाया था। लंबे समय से उसकी कोई जानकारी नहीं मिल रही थी। उसके शादी करने की बात भी सामने आई थी।
सिन्हा ने कहा कि हमजा की मौत एक स्पष्ट संकेत है कि अमेरिका अब पाकिस्तान को बहुत अधिक महत्व नहीं देने वाला है। पाकिस्तान लगातार अमेरिका से मिलने वाले अनुदान का फायदा लेना चाहता है। हमजा की मौत से पाकिस्तान की कोशिशों को जोरदार झटका लगा है। हमजा अपने पिता ओसामा की आतंक वाली राह पर था। हमजा की हत्या यह संकेत देती है कि अमेरिका अब तालिबान की भूमिका को लेकर गंभीर है और पाकिस्तान को कोई अहमियत नहीं दे रहा।
एसपी सिन्हा ने कहा कि दुनिया के शक्तिशाली देशों को हाफिज सईद, सैयद सलाहुद्दीन और मसूद अजहर जैसे अन्य आतंकवादियों को भी निशाना बनाना चाहिए। समय आ गया है जब दुनिया के अग्रणी देशों को यह पहचानना होगा कि वैश्विक आतंकवादी कौन हैं। अगर दुनिया को शांति से रखना है तो उन्हें भी निशाना बनाने की जरूरत है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »