एचएएल का लड़ाकू विमान Mirage 2000 क्रैश, दो पायलट की मौत

बंगलूरू। भारतीय वायुसेना का Mirage 2000 विमान शुक्रवार को बेंगलुरु के एचएएल हवाई अड्डे पर दुर्घटनाग्रस्त हो गया जिसमें एक पायलट की घटनास्थल पर ही मौत हो गई और एक गंभीर रूप से घायल हो गया। घायल पायलट ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। लड़ाकू विमानों की कमी से जूझ रही इंडियन एयरफोर्स को Mirage 2000 क्रैश   क्रैश हो जाने से शुक्रवार को तगड़ा झटका लगा है।

हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) का मिराज 2000 ट्रेनर विमान बेंगलुरु में दुर्घटनाग्रस्‍त हो गया है। इस हादसे में दोनों टेस्‍ट पायलट की मौत हो गई। पायलटों की पहचान स्क्वाड्रन लीडर सिद्धार्थ नेगी और स्क्वाड्रन लीडर समीर अब्रोल के रूप में हुई है।

एचएएल ने एक बयान में कहा कि हादसा शुक्रवार सुबह 10.30 बजे एक संक्षिप्त यात्रा के दौरान हुआ।

विमान में धमाका होने के बाद आग की लपटें उठने लगीं और घटनास्थल पर धुआं छा गया, जिससे यात्री और इसके आसपास रहने वाले लोग हैरान रह गए। इसके बाद अग्निशामकों और हवाई अड्डे के कर्मचारियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। स्क्वाड्रन लीडर नेगी और स्क्वाड्रन लीडर अबरोल दोनों ही टेस्ट पायलट थे।

एयरफोर्स ने हादसे के कारणों की जांच के आदेश दे दिए हैं। एचएएल एयरपोर्ट पुलिस थाने के एक अधिकारी ने बताया, ‘दुर्घटना में एक पायलट का शव पूरी तरह झुलस गया जबकि दूसरे पायलट को सेना के अस्पताल ले जाया गया।’ अधिकारी ने बताया कि बाद में घायल पायलट की भी मौत हो गई। एचएएल ने एक बयान में कहा कि हादसा शुक्रवार सुबह 10.30 बजे एक संक्षिप्त यात्रा के दौरान हुआ। विमान में धमाका होने के बाद आग की लपटें उठने लगीं और घटनास्थल पर धुआं छा गया, जिससे यात्री और इसके आसपास रहने वाले लोग हैरान रह गए।

बताया जा रहा है कि इस मिराज 2000 विमान को एचएएल ने अपग्रेड किया था। पिछले दिनों में यह 10वां ऐसा मिराज फाइटर जेट है जो दुर्घटनाग्रस्‍त हुआ है। बता दें कि मिराज विमानों ने करगिल युद्ध में पाकिस्‍तानी घुसपैठियों के खिलाफ जोरदार हमला किया था। इन्‍हीं विमानों पर परमाणु हथियारों को दुश्‍मन के क्षेत्र में गिराने की जिम्‍मेदारी भी है। गौरतलब है कि पिछले दिनों उत्‍तर प्रदेश के कुशीनगर में एयरफोर्स का जगुआर फाइटर प्‍लेन दुर्घटनाग्रस्‍त हो गया था। यह दुर्घटना कुशीनगर के हेतिमपुर के पास हुआ था।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »