Guinness Book के एक कार्यक्रम का हिस्सा बनेंगे ब्रज के निरंकारी भक्त

संत निरंकारी मिशन 17 नवम्बर को बनाएगा Guinness Book में दर्ज होने हेतु रोशन मीनार की सबसे बड़ी मानव आकृति 
मथुरा। ब्रज के निरंकारी भक्त Guinness Book of World Records में दर्ज होने वाले एक कार्यक्रम का हिस्सा बनेंगे।
मीडिया प्रभारी किशोर “स्वर्ण” ने बताया कि संत निरंकारी मिशन 17 नवम्बर को हरियाणा के जी.टी.रोड स्थित समालखा के सन्त निरंकारी आध्यात्मिक परिसर में ‘रोशन मीनार की सबसे बड़ी मानव आकृति’ बनाकर अपना नाम गिनीज़ बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड्स में दर्ज करवाने का प्रयास करेगा। यह आकृति उसी स्थल पर बनाई जा रही है जहां ठीक एक सप्ताह के पश्चात् 24 नवम्बर से निरंकारी मिशन का तीन दिवसीय 71वां वार्षिक निरंकारी संत समागम आरंभ हो रहा है।
उन्होंने बताया कि गिनीज़ बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड्स में दर्ज वाले इस कार्यक्रम में भारत के विभिन्न भागों तथा दूर-देशों के पच्चीस हजार 25,000 से भी अधिक भक्तों के भाग लेने की आशा है। इसके लिए भाग लेने वाले पुरुष एवं महिलाए अपना ओनलाइन रजिस्ट्रेशन करा चुके है।
इसमें शामिल होने वाले मथुरा के निरंकारी भक्त 16 नवम्बर की रात्री को स्थानीय संयोजक हरविंद्र कुमार के नेतृत्व में बस द्वारा समालखा हरियाणा के लिए रवाना होंगे।
किशोर “स्वर्ण” के अनुसार यह कार्यक्रम माता सविन्दर हरदेव जी को सपर्पित होगा जिन्होंने 13 मई 2016 से लेकर 5 अगस्त 2018 तक सद्गुरु रूप में मिशन का मार्गदर्शन किया। माता सविन्दर हरदेव जी चाहते थे कि मिशन का प्रत्येक अनुयायी एक रोशन मीनार बने और ब्रह्मज्ञान के इस उजाले को संसार के कोन-कोने तक फैलाये। उनका विश्वास था कि कर्म की आवाज़ शब्दों से भी अधिक होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »