नवंबर में GST का कलेक्शन बढ़ कर 1.31 लाख करोड़ रुपये से अधिक हुआ

कोरोना काल भले ही अभी समाप्‍त न हुआ हो लेकिन इकॉनोमी में कामकाज फिर से बढ़िया होने लगा है। तभी तो बीते नवंबर में वस्तु और सेवा कर GST का कलेक्शन बढ़ कर 1.31 लाख करोड़ रुपये से अधिक हो गया है। यह एक साल पहले की तुलना में 25 फीसदी अधिक है। जुलाई 2017 में इसके लागू होने के बाद से यह दूसरा सबसे अधिक संग्रह है। इससे ज्यादा वसूली इसी साल अप्रैल में हुई थी।
1,31,526 करोड़ रुपये आए
केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने बुधवार को यह जानकारी दी। मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि नवंबर महीने में एकत्रित कुल जीएसटी GST राजस्व 1,31,526 करोड़ रुपये है। इसमें सीजीएसटी 23,978 करोड़ रुपये, एसजीएसटी 31,127 करोड़ रुपये, आईजीएसटी 66,815 करोड़ रुपये (माल के आयात पर एकत्रित 32,165 करोड़ रुपये सहित) और उपकर 9,606 करोड़ रुपये (माल के आयात पर एकत्रित 653 करोड़ रुपये सहित) है।
सीजीएसटी का मतलब केंद्रीय माल और सेवा कर है। एसजीएसटी का अर्थ राज्य माल और सेवा कर है जबकि आईजीएसटी का मतलब एकीकृत माल और सेवा कर है।
पिछले साल के नवंबर से 25 फीसदी ज्यादा रही वसूली
2021 के नवंबर महीने के लिए जीएसटी वसूली नवंबर 2020 की तुलना में 25 फीसदी अधिक है। यदि नवंबर 2019 में आए राजस्व से तुलना करें तो यह 27 फीसदी अधिक है। मंत्रालय ने कहा, ‘‘नवंबर 2021 के लिए जीएसटी राजस्व जीएसटी की शुरुआत के बाद से दूसरा सबसे अधिक है। यह पिछले महीने के संग्रह से अधिक है। यह आर्थिक सुधार की प्रवृत्ति के अनुरूप है।’’
अप्रैल में क्या थी वसूली
अक्टूबर 2021 में जीएसटी संग्रह 1,30,127 करोड़ रुपये था जबकि अप्रैल 2021 में यह 1.41 लाख करोड़ रुपये से अधिक था। सरकार का मानना है कि उच्च जीएसटी राजस्व की हालिया प्रवृत्ति विभिन्न नीति और प्रशासनिक उपायों का परिणाम है। ये कदम अतीत में अनुपालन में सुधार के लिए उठाए गए हैं। पिछले एक साल में सुधार के लिए कई कदम उठाए गए हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *