व्यापारियों को सरकार का तोहफा, सिर्फ तीन दिन में Register करा सकेंगे नया बिजनेस

नई दिल्‍ली। मोदी सरकार अब नये बिजनेस को सिर्फ तीन दिन में Register करा लेने का तोहफा व्‍यापारियों को देन जा रही है। नई कंपनी का गठन करने के लिए  व्यापारियों को लंबी-चौड़ी क्लीयरेंस प्रक्रिया से नहीं गुजरना पड़ेगा। सरकार की ओर से Ease of Doing Business सूची में देश को शीर्ष 100 स्‍थान के भीतर लाने के लिए ये बदलाव किए जा रहे हैं। बिजनेस शुरू करने का इरादा रखने वालों के लिए अच्छी खबर है। जल्द ही आपको अपना बिजनेस Register कराने के लिए सिर्फ तीन दिन लगेंगे।

सरकार ease of doing business सूची के शीर्ष 50 देशों में भारत को शामिल करने के लिए कंपनियों को रजिस्टर कराने की प्रक्रिया में बड़े बदलाव करने जा रही है। इसके तहत किसी नई कंपनी का गठन करने के लिए व्यापारियों को लंबी-चौड़ी क्लीयरेंस प्रक्रिया से नहीं गुजरना पड़ेगा। इसकी जगह एक आसान क्लीयरेंस प्रोसेस लाई जाएगी।

तीन दिन में हो जाएगी रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया
Economic Times के मुताबिक डिपार्टमेंट फॉर प्रमोशन ऑफ इंडस्ट्री एंड इंटरनल ट्रेड (DPIIT) ईज ऑफ डूइंग बिजनेस सूची में भारत को 27 पायदानों की छलांग लगाकर शीर्ष 50 में लाने के लिए नई योजनाओं पर काम कर रहा है। ऐसा होने के बाद कंपनियों को अपना पर्मानेंट अकाउंट नंबर, टैक्स अकाउंट नंबर, जीएसटी, इम्प्लॉयी प्रोविडेंट फंड ऑर्गेनाइजेशन (EPFO) और इम्प्लॉयी स्टेट इंश्योरेंस कारपोरेशन (ESIC) मिलने में सिर्फ तीन दिन का समय लगेगा।

नहीं पड़ेगी डिजिटल साइन करने की जरूरत
फिलहाल कंपनी का नाम रजिस्टर कराने को लेकर कई मसले हैं जिन्हें मिनिस्ट्री ऑफ कॉर्पोरेट अफेयर्स सुलझा रहा है। कई बार रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया कई एजेंसियों पर अटक जाती है जिससे कंपनियों को क्लीयरेंस मिलने में देरी हो जाती है। इससे ठीक किया जा रहा है। रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को तेज करने के लिए डिजिटल साइन की जगह प्रमाणीकरण के लिए किसी और तरीके का इस्तेमाल किया जाएगा।

दो साल में 53 पायदान ऊपर आया है देश
पिछले दो साल में विश्व बैंक की ईज ऑफ इूइंग बिजनेस सूची में देश ने 53 पायदानों की छलांग लगाई है। विश्व बैंक ने भारत को सुधार करने वाले शीर्ष देशों में शामिल किया। 2014-18 में भारत ने दस सूची में 65 पायदानों की छलांग लगाई है, जबकि चीन 27 पायदान नीचे गिर गया है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »