सरकार का तोहफा, रेलवे Ticket कन्‍फर्म न होने पर भी कर सकेंगे सफर

नई दिल्‍ली। अब ट्रेन में सफर कर रहे आरएसी और प्रतीक्षारत टिकट धारकों को कन्‍फर्म Ticket आसानी से मिल सकेगा। भारतीय रेलवे ने यात्रियों की सुविधा के लिए एक नई सेवा को शुरू किया है। रेलवे ने देशभर के चल Ticket निरीक्षकों को अब एक टैबलेट दिया है, जिसकी मदद से वो चलती ट्रेन में सीटों की उपलब्धता के बारे में रियल टाइम बेसिस पर जानकारी अपडेट करा सकेंगे।
अभी तक रेल यात्रियों के लिए नियम था कि वेटिंग टिकट वाले यात्रा नहीं कर सकते हैं। केवल विंडो या फिर काउंटर से खरीदे गए प्रतीक्षारत यात्री अपनी श्रेणी में दिन के दौरान सफर कर सकते हैं। यह नियम ऑनलाइन बुक गए टिकट पर लागू नहीं होता है। ऑनलाइन बुक किए वेटिंग टिकट यात्री अभी भी यात्रा नहीं कर सकते हैं और ऐसा करते हुए पाये जाने पर उनको बिना टिकट यात्रा करते होने का जिम्मेदार माना जाएगा।

शताब्दी, राजधानी में पहले शुरू की गई थी सेवा
अब आईआरसीटीसी ने प्रतीक्षारत यात्रियों को सहुलियत देते हुए अब यह कहा है चार्ट बन जाने के बाद भी जिन यात्रियों का नाम होगा वो अपना सफर कर सकेंगे। ऐसे में उन यात्रियों को यात्रा करने पर किसी तरह का कोई जुर्माना नहीं देना होगा, जिनका टिकट प्रतीक्षारत सूची में होगा। फिलहाल इन ट्रेनों में कार्यरत चल टिकट निरीक्षकों को ऐसे टैबलेट डिवाइस दे रहे हैं, जिससे उनको खाली सीटों के बारे में पता चल सकेगा । सबसे पहले इस सुविधा को शताब्दी व राजधानी में शुरू किया गया था, लेकिन अब इसे प्रत्येक जोन में लागू करने का निर्देश दिया जा चुका है।

चार्ट बनने से पहले कराना होगा टिकट कैंसिल
अगर आप यात्रा नहीं करना चाहते हैं, तो फिर चार्ट बनने से पहले अपना टिकट कैंसिल करा लें। चार्ट बनने से पहले कराए गए टिकट कैंसिल पर ही रेलवे की तरफ से रिफंड मिलेगा। अगर आप चार्ट बनने के बाद टिकट कैंसिल करते हैं तो कोई रिफंड नहीं मिलेगा। अगर आप ऐसे टिकट पर रिफंड चाहते हैं तो फिर etickets@irctc.co पर जल्द से जल्द ई-मेल करके दावा कर सकते हैं। रेलवे फिर इस तरह के टिकट पर निर्णय लेकर के रिफंड करेगा।
ऐसे करेगा काम
1. इस डिवाइस के जरिए जीपीआरएस के जरिए चार्ट और करंट बुकिंग के बारे में तुरंत जानकारी मिल सकेगी।
2. इसके साथ ही यह बीच में पड़ने वाले छोटे स्टेशनों के चार्ट को भी डाउनलोड कर सकेगा, जिससे वहां के आरक्षण की भी जानकारी मिल       सकेगी।
3. हर घंटे की लिस्ट को अपडेट किया जा सकेगा।
4. यात्री किसी भी कोच में यात्रा कर रहा हो, उसके ट्रेन में होने की सूचना किसी भी डिवाइस से भेजी जा सकेगी।
5. यात्री अपनी बुक हुई श्रेणी को भी इस डिवाइस की मदद से अपग्रेड करा सकता है।
6. इससे अब ट्रेन में टीटी को पेपर चार्ट लेकर चलने की जरूरत नहीं
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »