अब सरकारी बैंक अधिकारियों को भी Performance के आधार पर मिला करेगी सैलरी!

नई दिल्ली। अब सरकारी बैंकों के अधिकारियों की सैलरी उनके Performance के आधार पर निर्धारित की जा सकती है। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI), पंजाब नेशनल बैंक (PNB) और बैंक ऑफ बड़ोदा Performance लिंक्ड सैलरी की तैयारी कर रहे हैं।
बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के मुताबिक यह नियम जनरल मैनेजर ग्रेड के अधिकारी और उनसे ऊपर के अधिकारियों पर लगाया जाएगा। पीएनबी के मैनेजिंग डायरेक्टर सुनील मेहता ने कहा, ‘बैंक गंभीरता से Performance बेस्ड इन्सेंटिव देने पर विचार कर रहा है। इसमें फिक्स्ड और वैरिएबल पे शामिल होगा लेकिन यह धीरे-धीरे लागू हो पाएगा।’ SBI और BoB भी कुछ ऐसा ही मॉडल अपनाना चाहता है।
सामान्य तौर से प्राइवेट सेक्टर में Performance बेस्ड सैलरी होती है। प्रदर्शन के आधार पर इन्सेंटिव न मिलने और निश्चित समय पर ही प्रमोशन होने की वजह से कर्मचारियों में उत्साह की कमी रहती है। साल 2015 में कोल इंडिया लिमिटेड के सुपरवाइजर और एग्जिक्यूटिव ग्रेड के कर्मचारियों के लिए सरकार ने इन्सेंटिव का ऐलान किया था।
सातवें वेतन आयोग में Performance लिंक्ड पेमेंट की सिफारिश सभी केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए की गई है। इसमें सलाह भी दी गई है कि सभी विभाग के कर्मचारियों को उनकी मैट्रिक्स में काम करने के लिए थोड़ी ढील दी जाए। पैनल ने सलाह दी है कि यह पेमेंट साल के आखिरी में कैश दिया जाएगा। यह बचत के रूप में नहीं दिया जाएगा।
प्रदर्शन के आधार पर पेमेंट को लागू करने के लिए सरकारी बैंकों को सरकार से अनुमति लेनी होगी। सभी स्तर के कर्मचारियों की सैलरी से जुड़े मामले इंडियन बैंक एसोसिएशन, बैंक मैनेजमेंट और ट्रे़ड यूनियन की सहमति के साथ निर्धारित किए जाते हैं।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »