इंसानों जैसी आवाज में बोलता है गूगल का ‘Tacotron 2’

आर्टिफिशल इंटेलिजेंस को और मजबूत करने के लिए गूगल ने एक नया टेक्स्ट-टु-स्पीच आर्टिफिशल इंटेलिजेंस डिवेलप किया है, जोकि एकदम इंसानों जैसी आवाज में बोलता है। इसका नाम ‘टैकोट्रॉन 2’ रखा गया है। एक वेबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक, यह आर्टिफिशल इंटेलिजेंस की मदद से ऐसी आवाज निकालता है जैसे किसी इंसान की आवाज हो।
गूगल के 2017 के डिवेलपर्स कॉन्फ्रेंस में गूगल इंडिया के सीईओ सुंदर पिचाई ने घोषणा की थी कि गूगल अपना ध्यान ‘मोबाइल फर्स्ट’ से ‘आर्टिफिशल इंटेलिजेंस फर्स्ट’ की ओर डायवर्ट कर रहा है।
गूगल ने अपने ऐल्गरिदम में ऐसे बदलाव किए हैं, जिससे वह विभिन्न आवाजों को आसानी से पहचान सके और आर्टिफिशल सांसें भी निकाल सके। गूगल के मुताबिक, ऑडियो सैंपल्स के आधार पर ‘टैकोट्रॉन 2’ एक जैसे शब्दों में भी आसानी से भेद कर लेता है।
हालांकि, गूगल के इंजिनियर्स ने इसके बारे में कुछ बताया तो नहीं लेकिन यूजर्स के लिए थोड़े बहुत क्लू जरूर दे दिए हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक, सभी ‘.wav’ ऑडियो सैंपल फाइल्स या तो ‘gen’ या फिर ‘gt’ नाम से हैं। इसमें ‘gen’ वाली आवाजें ‘टैकोट्रॉन 2’ की हैं और ‘gt’ वाली आवाजें इंसानी आवाजें हैं।
-एजेंसी