मोटापे से जूझ रहे लोगों के लिए खुशखबरी, जल्‍द होगा टीका विकसित

हो सकता है आपको सुनने में यह अजीब लगे लेकिन मोटापे से जूझ रहे लोगों के लिए यह एक खुशखबरी हो सकती है। जल्द ही मोटापा कम करने के लिए वैक्सीन यानी टीका विकसित किया जा सकता है। जी हां, ऐसा इसलिए संभव हो पाएगा क्योंकि वैज्ञानिकों ने मोटापा और संक्रामक रोग फैलाने वाले वायरस के बीच लिंक होने का सबूत पाया है।
मोटापा ग्रस्त लोगों में पाया गया वायरस
वैज्ञानिकों ने एक स्टडी की है जिसके नतीजे बताते हैं कि वैसे पेशंट्स जिनका वजन सामान्य या फिर हेल्दी रहता है उनकी तुलना में मोटापे से परेशान मरीजों के शरीर में एडनोवायरस-36 (adenovirus) 4 गुना अधिक पाया जाता है। जानवरों पर की गई स्टडी के नतीजे बताते हैं कि यह वायरस शरीर का 15 प्रतिशत तक वजन बढ़ाने के लिए जिम्मेदार है।
वायरस का शरीर पर होता है दो-तरफा असर
इस वायरस का शरीर में दो-तरफा असर होता है। यह वायरस फैट सेल्स में उत्तेजना पैदा करता है जिससे उनमें जलन और सूजन आ जाती है और उसके बाद यह वायरस इन सेल्स को मरने और शरीर से बाहर होने से भी रोक देता है जिस वजह से ये फैट सेल्स शरीर में जमा होते जाते हैं जिससे मोटापा बढ़ता है।
11 प्रतिशत मोटापा ग्रस्त लोगों में पाया गया वायरस
इस स्टडी में करीब 30 प्रतिशत मोटापे से ग्रस्त लोग इस वायरस से इंफेक्टेड पाए गए और इनमें से 11 प्रतिशत लोगों में एडनोवायरस-36 (adenovirus) पाया गया। यह वायरस आमतौर पर कोल्ड, आई इंफेक्शन और पेट से जुड़े इंफेक्शन से लिंक्ड है। एडनोवायरस-36 (adenovirus) से मिलते जुलते एक और वायरस के बारे में यह साबित हो चुका है कि यह चूहों और बंदरों में वजन बढ़ाने के लिए जिम्मेदार है।
टीका बनाना संभव हो सकता है
यूनिवर्सिटी ऑफ मैस्च्यूसिट्स के डॉ विलमोर वेब्ले कहते हैं कि सांस से संबंधित बीमारियां फैलाने के लिए जिम्मेदार adenovirus के लिए टीका बनाकर पहले ही यूएस आर्मी इस्तेमाल कर रही है जो इस बात का सबूत है कि मोटापा फैलाने वाले इस वायरस के खिलाफ वैक्सीन यानी टीका विकसित किया जा सकता है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »