GL बजाज निखार रहा है छिपी प्रतिभाएं: Ravindra Kumar

जीएल बजाज टैलेंट अवार्ड-2018 के प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए DM के प्रतिनिधि ADM Ravindra Kumar ने कहा

केमिस्ट्री के लिए मैडम क्यूरी, मैथ के लिए आर्यभट्ट और फिजिक्स के लिए न्यूटन अवार्ड के रुप में फस्र्ट, सेंकेड और थर्ड पोजीशन के लिए क्रमशः 11000, 7000 और 5000 रुपये के चैक और प्रमाण पत्र बांटे

मथुरा। जनपद के प्रतिष्ठित और डा. एपीजे कलाम टेक्नीकल यूनिवर्सिटी की टाॅप टेन कालेजों में शामिल जीएल बजाज ग्रुप आफ इंस्टीटयुशंस मंे रविवार को तीन राज्यों के कई जिलों से आई 250 से अधिक प्रतिभाओं ने जीएल बजाज टैलेंट अवार्ड-2018 प्रतियोगिता में प्रतिभाग किया। विजेता दस छात्र-छात्राओं ने 50 स्कूलों से अधिक में कराई गई द्वि स्तरीय परीक्षा में चैबीस सौ छात्र-छात्राओं को पीछे छोडते हुए खुद को साबित किया। इन दस छात्र-छात्राओं में से श्रीजी बाबा सरस्वती विद्या मंदिर के अर्पित रैकवार ने ओवरआॅल टाॅपर का खिताब अपने नाम कर 2100 हजार रुपये का चेक प्राप्त किया। सभी दस छात्र-छात्राओं को पुरस्कार स्वरुप धनराशि के चेक और स्मृति चिह्रन मुख्य अतिथि जिलाधिकारी मथुरा के प्रतिनिधि अपर जिला अधिकारी वित्त एंड राजस्व रविंद्र कुमार और कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे आरके एजुकेशनल हब के चैयरमेन डा. राम किशोर ने सौंपे। पुरस्कार प्राप्त कर प्रतिभाओं के चेहरे पर मुस्कान फैल गई। अन्य मौजूद छात्र-छात्राओं में ऐसी स्वस्थ स्पर्धा कर खुद को साबित करने का भाव जागृत होता देखा गया।

GL Bajaj is rewarded by the hidden talent- Additional District Magistrate Ravindra Kumar
GL Bajaj is rewarded by the hidden talent- Additional District Magistrate Ravindra Kumar

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि और अपर जिलाधिकारी Ravindra Kumar ने कहा कि जिलाधिकारी महोदय के निर्देश पर मुझे जीएल बजाज टैलेंट अवार्ड-2018 में छात्र-छात्राओं के बीच आकर बहुत खुशी हुई। यहां मौजूद हर युवा के चेहरे पर अवार्ड जीतने की जो दृढ इच्छा शक्ति नजर आ रही है। उसी दृढ इच्छा शक्ति के सहारे हर युवा अपने जीवन के लक्ष्य को प्राप्त कर सकता है। जीएल बजाज छात्र-छात्राओं में मौजूद छिपी हुई प्रतिभा को निखारने का कार्य कर रहा है। ऐसा कार्य हर छोटे-बडे संस्थान को करना चाहिए। संस्थानों को प्रतिभाओं को सम्मानित कर उनकी सोई क्षमता और प्रतिभा को जागृत करने का काम करना चाहिए।

कार्यक्रम के समापन पर अध्यक्षता कर रहे आरके ग्रुप के चैयरमेन डा. रामकिशोर अग्रवाल, वाइस चैयरमेन पंकज अग्रवाल और एमडी मनोज अग्रवाल ने कहा कि सभी छात्र-छात्राओं को गुरुजनों का सम्मान करना चाहिए। मुझे अब भी मेरा कोई शिक्षक मिल जाता है। मैं अब भी उनके चरण स्पर्श करना अपना धर्म समझता हॅू। विद्यार्थी इस देश के कल के कर्णधार है, नागरिक है। उन्हें समय प्रबंधन पर विशेष ध्यान चाहिए। हर विद्यार्थी को प्रभावी विचार विमर्श की आवश्यकता है।

‘कम्प्यूटर बैसिक्स‘ बुक का किया विमोचन
जीएल बजाज के 2009-2013 बैच के पूर्व छात्र गौरव अग्रवाल की लिखी पुस्तक लर्न कम्प्यूटर बैसिक्स का विमोचन कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे आरके एजुकेशन ग्रुप के चैयरमेन डा. राम किशोर अग्रवाल ने किया। उन्होंने कहा कि संस्थान के द्वारा रोपे गए प्रतिभा के बीच समाज और राष्ट्र को छाया प्रदान कर रहे है। ऐसे ही कार्यकरने से समाज और राष्ट्र का भला होता है। रचनात्मक सोच ही राष्ट्र का भला कर सकती है। ऐसी सोच विकसित करने का काम जीएल बजाज बखूबी कर रहा है।

अब ई-मजदूर ऐप से बुलाएं घर बैठे मजदूर
जीएल बजाज ग्रुप आफ इंस्टीटयूशंस संस्थान की सीएस शाखा के द्वितीय वर्ष के छात्र विरेन्द्र कुमार ने खुद की प्रतिभा को साबित किया। उनके द्वारा बनाए ई-मजदूर ऐप को आरके एजुकेशन हब के चैयरमेन ने लांच किया। इस ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। इस एप की विशेषता ये है कि लोगों को मजदूरों की जरुरत पडने पर उन्हें मजदूर मंडी जाने की जरुरत नहीं होगी। वे ऐप से ही मजदूर को उसके प्रोफाइल से पसंद कर मोबाइल से सम्पर्क कर काम पर बुला सकेंगे।

संस्थान के निदेशक डा. एलके त्यागी ने कार्यक्रम की शुरुआत में स्वागत करते हुए कहा कि जीएल बजाज ग्रुप आफ इंस्टीटयुशंस शुरु से ही छात्र-छात्राओं के अंदर छिपी प्रतिभा को बाहर लाने का काम करता रहा है। ये कार्यक्रम इसी उद्देश्य की एक कडी है। हम छात्र-छात्राओं की क्षमता और उनमें किसी खास कौशल को ढंूढकर उसे निखारने और प्रखर करने की जिम्मेदारी को बखूबी निभा रहे। इसे इस कालेज के हो रहे प्लेसमेंट के रिकार्ड को देखकर अच्छी तरह से समझा जा सकता है।

उन्होंने जीएल बजाज टैलेंट अवार्ड-2018 के बारे में बताया कि हरियाणा, राजस्थान, यूपी के 50 से अधिक कालेजों के 2400 से अधिक छात्र-छात्राओं को उनके कालेजों में ही भौतिक, रसायन विज्ञान और गणित विषयों की परीक्षा ली गई। इस परीक्षा में उत्तीर्ण 250 से अधिक छात्र-छात्राओं को तीन जून, रविवार को कालेज कैम्पस में बुलाकर फाइनल परीक्षा कराई गई। इसमें भौतिक विज्ञान में श्रीजी बाबा सरस्वती विद्या मंदिर के छात्र लक्ष्मी नारायण प्रथम, इसी कालेज के गोविंद द्वितीय और आदर्श विद्या मंदिर इंटर कोसीकलां के सागर सोनी तृतीय स्थान प्राप्त किया। रसायन विज्ञान में श्रीजी बाबा सरस्वती विद्या मंदिर के अभिजीत प्रथम, इसी कालेज के लक्ष्मी नारायण द्वितीय और माउंट हिल एकेडमी मथुरा के हिमांशु शर्मा तृतीय रहे। गणित विषय में एमडी जैन पब्लिक कोसीकलां के भीम गोयल प्रथम, श्रीजी बाबा सरस्वती विद्या मंदिर के अर्पित रैकवार द्वितीय और विद्या सागर एकेडमी राया के गजेंद्र शर्मा ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

केमिस्ट्री के लिए मैडम क्यूरी, मैथ के लिए आर्यभट्ट और फिजिक्स के लिए फस्र्ट, सेंकेड और थर्ड पोजीशन के लिए न्यूटन अवार्ड के रुप में क्रमशः 11000, 7000 और 5000 रुपये के चैक कार्यक्रम के दौरान ही प्रमाण पत्र और स्मृति चिहृन के साथ मुख्य अतिथि Ravindra Kumar द्वारा प्रदान किये गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »