Girraj Ji सेवा मंडल का 11वां दिव्य छप्पन भोग महोत्सव 22-23 दिस. को

आगरा। श्री Girraj Ji महाराज का भव्य दरबार 11,000 किलो छप्पन भोग के साथ विभिन्न फल और फूलों से सजाया जाएगा। श्री Girraj Ji सेवा मण्डल द्वारा ग्यारवें दिव्य छप्पन भोग महोत्सव का आयोजन २२ और 23 दिसम्बर को गोवर्धन तलहटी में श्री शरणानंद जी के आश्रम बड़ी परिक्रमा मार्ग गोवर्धन में किया जाएगा।

कमला नगर स्थित अग्रवाल सेवा सदन में आयोजित आमंत्रण-पत्र के विमोचन कार्यक्रम में श्री गिर्राज जी सेवा मंडल परिवार के संस्थापक नितेश अग्रवाल ने कहा कि सभी भक्त कार्यक्रम में 22 दिसंबर को गोवर्धन में श्री गिर्राज जी महाराज का 251 लीटर दूध और परिक्रमा मार्ग में पड़ने वाले सभी कुंडों के जल से गोविन्दाभिषेक गोपाल सहस्त्रानाम पाठ किया जाएगा। सभी भक्त सप्त कोसीय परिक्रमा संर्कीतन मंडली के साथ दुग्धधार व पुष्प वर्षा के साथ पैदल परिक्रमा लगाएंगे। 23 दिसम्बर को 551 साधुओं की सेवा, श्री गिर्राज जी महाराज के भव्य अलौकिक फल-फूल बंग्ला, छप्पन भोग और भंडारे का आयोजन श्री शरणानन्द आश्रम में किया जाएगा। शाम को भजन संध्या का आयोजन किया जाएगा।

राम बारात मार्ग पर निकलेगी आमंत्रण यात्रा
राम बारात मार्ग पर श्री गिर्राज जी के डोले के साथ 12 दिसंबर को आगरा मे भव्य आमंत्रण यात्रा श्री मनःकामेश्वर मंदिर से निकाली जाएगी। जो शहरवासियों को कार्यक्रम में चलने के लिए निमंत्रण देगी। पूरे मार्ग में मक्खन मिश्री का प्रसाद वितरित किया जाएगा। कार्यक्रम में दिनभर प्रसाद वितरण किया जाएगा।

बनारस व बंगाल के कारीगर करेंगे छप्पन भोग महल की सज्जा
गिर्राज महाराज के छप्पन भोग महल की सज्जा बनारस व बंगाल के कारीगरों द्वारा देशी विदेशी फूलों से की जाएगी। वैष्णव पद्धति से 11000 किलो विभिन्न प्रकार के मिष्ठान, पकवान व फल द्वारा गिर्राज जी महाराज का छप्पन भोग लगाया जाएगा। गिर्राज जी महाराज का श्रृंगार द्वारिकाधीश मंदिर के मथुरा के मुखिया शरद शंकर जी रत्नों जड़ित आकर्षक पोशाक से करेंगे। इस अवसर पर संरक्षक महंत कपिल नागर, अध्यक्ष श्याम सुन्दर माहेश्वरी, रविंद्र गोयल, चंद्रमोहन बंसल, मयंक अग्रवाल, मनोज गर्ग, अजय गोयल,अजय सिधंल, विशाल बंसल, विजय अग्रवाल, वीरेन्द्र सिंघल, पवन अग्रवाल, नीरज अग्रवाल, आदित्य माहेश्वरी, अनिल अग्रवाल आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »