माफियाओं पर बुलडोजर का कहर: मुख्तार अंसारी के करीबी का हॉस्पिटल-ट्रामा सेंटर तोड़ा

गाजीपुर । गाजीपुर में मुख्तार अंसारी और उसके सहयोगियों की मुश्किलें कम नहीं हो रही हैं। उत्तर प्रदेश में याेगी सरकार की तरफ से माफियाओं और अवैध निर्माण कराने वालों के खिलाफ पुलिस लगातार एक्शन में है, आज शनिवार सुबह प्रशासन ने गाजीपुर में बड़ी कार्रवाई करते हुए बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के करीबी आलम सिद्दीकी के अवैध शम्मे हुसैनी हॉस्पिटल व ट्रॉमा सेंटर को ढहा दिया।

एनजीटी के नियमों का उल्लंघन कर गंगा की जमीन पर बनाए गए हॉस्पिटल को प्रशासन और पुलिस ने बुलडोजर चलाकर गिरा दिया

प्रशासन की इस कार्रवाई के बाद हड़कंप मच गया और अब मुख्तार से जुड़े अन्य लोगों को भी कार्रवाई का डर सताने लगा। इससे पहले 191-आईएस गैंग का मुखिया मुख्तार के करीबी और मददगार परिवार आजम सिद्दीकी और डॉक्टर शादाब सिद्दीकी समेत परिवार के 17 शस्त्र लाइसेंस निलंबित हो चुके हैं। उप जिलाधिकारी सदर ने बीते आठ अक्टूबर को ही आदेश जारी किया था।

मुख्तार और उसके सहयोगियों की मुश्किलें नहीं हो रही कम
मुख्तार अंसारी के सहयोगियों की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रहीं। बरबराहना निवासी आजम सिद्दीकी और डॉक्टर शादाब सिद्दीकी के गंगा किनारे बने अस्पताल शम्मे हुसैनी में जिलाधिकारी की जांच कमेटी ने बड़े पैमाने पर निर्माण को अवैध पाया था।

आठ अक्तूबर को मामले में जांच के बाद एसडीएम कोर्ट ने आदेश को शम्मै हुसैनी हॉस्पिटल पर नोटिस चस्पा कर संचालक को स्वतः ध्वस्त करने के लिए एक सप्ताह का समय दिया गया है। शम्मे हुसैनी हॉस्प‌िटल व ट्रामा सेंटर को ध्वस्त करने के विरोध में कॉलेज संचालक ने जिलाधिकारी कोर्ट में आवेदन दाखिल किया।

डीएम की अध्यक्षता में बने बोर्ड ने कॉलेज की दलीलों को ठुकराते हुए कार्रवाई की बात कही। इसके बाद सुबह 9 बजे पुलिस और प्रशासन की टीम में बुलडोजर जेसीबी लेकर पहुंच गई और कॉलेज की दीवार समेत सभी कक्ष ध्वस्त कर दिए। आजम सिद्दीकी और डॉक्टर शादाब सिद्दीकी के मुख्तार से संबंधों और कार्यों में शामिल हाेने के सबूत तलाशे जा रहे हैं।
– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *