IPL नीलामी के लिए गंभीर और भज्जी का base price तय

नई दिल्ली। आइपीएल सीजन 2018 के लिए भारतीय टीम के सीनियर खिलाड़ी गौतम गंभीर और हरभजन सिंह ने अपना base price 2 करोड़ रखा है।
इनके अलावा युजवेंद्र चहल, युवराज सिंह, क्रिस गेल, ड्वेन ब्रावो, किरोन पोलार्ड और ब्रैंडन मैकुलम ने भी खुद को टॉप ब्रैकेट में रखा है।

उधर डोपिंग मामले में बीसीसीआइ की तरफ से पांच महीने का बैन लगाए जाने के बाद भारतीय बल्लेबाज युसुफ पठान आइपीएल सीजन 2018 के लिए 75 लाख रुपए में उपलब्ध हैं।

बीसीसीआइ ने मंगलवार को कहा था कि यूसुफ डोपिंग मामले में दोषी पाए गए हैं और वो बड़ोदा के लिए मौजूदा रणजी सीरीज में नहीं खेलेंगे। बीसीसीआइ ने पठान पर 15 अगस्त 2017 से 14 जनवरी 2018 तक बैन लगाया है। आइपीएल की नीलामी 27 और 28 जनवरी को होगा।

यूसुफ पठान ने राजस्थान रॉयल्स के लिए आइपीएल में वर्ष 2008 से 2010 तक खेला। इसके बाद वो 2011 से लेकर अब तक कोलकाता नाइट राइडर्स के साथ जुड़े हुए थे।
यूसुफ के भाई और भारतीय टीम के ऑल राउंडर इरफान पठान जो पिछली नीलामी में नहीं बिके थे उनका बेस प्राइस 50 लाख रुपए हैं।

सूत्रों का कहना है कि यूसुफ आइपीएल के बेहतरीन मध्यक्रम के बल्लेबाजों मे से एक हैं जबकि इरफान शानदार ऑलराउंडर हैं और इस बार सभी टीमें उन पर दाव लगाने के बेताब होंगे।

इस बार कैप्ट्ड प्लेयर्स को ये सुविधा दी गई है कि वो नीलामी के लिए अपना बेस प्राइस 50 लाख, 1 करोड़, 1करोड़ 50 लाख और 2 करोड़ रख सकता है।

सूत्रों की मानें तो ये तय है कि भारतीय टीम के सीनियर खिलाड़ी गौतम गंभीर और हरभजन सिंह ने अपना बेस प्राइस 2 करोड़ रखा है। इनके अलावा युजवेंद्र चहल, युवराज सिंह, क्रिस गेल, ड्वेन ब्रावो, किरोन पोलार्ड और ब्रैंडन मैकुलम ने भी खुद को टॉप ब्रैकेट में रखा है।

वर्ष 2008 में मुंबई इंडियंस द्वारा खरीदे जाने के बाद ये पहला मौका होगा जब हरभजन सिंह नीलामी के लिए उपलब्ध होंगे। भज्जी आइपीएल इतिहास में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले तीसरे गेंदबाज हैं। उन्होंने 136 मैचों में 26.54 की औसत से 127 विकेट लिए हैं। उन्होंने मुंबई इंडियंस के लिए 10 वर्ष तक खेला था। भज्जी अच्छे गेंदबाज तो हैं ही इसके अलावा निचले क्रम पर वो बेहद उपयोगी बल्लेबाज भी हैं।

भज्जी का कहना है कि मुंबई इंडियंस के साथ मैंने एक दशक तक खेला और उनके साथ मेरा ये सफर काफी अच्छा रहा।
अब मैं आइपीएल में किसी भी टीम के लिए खेलूं मेरा मकसद है कि मैं अच्छी गेंदबाजी करूं साथ ही मैच जीतने की कोशिश करूं। अब देखते हैं इस base price तय करने के बाद नीलामी में क्या होता है।
-एजेंसी