आपकी क‍िडनी के ल‍िए खतरनाक हो सकती है Gastric दवा

नई द‍िल्ली। Gastric दवा आपकी क‍िडनी के ल‍िए खतरनाक हो सकती हैं । पेट की गैस के ल‍िए ली जाने वाली दवाइयां (Gastric medicine ) आपकी किडनी पर बुरा असर डाल सकती हैं, इनके इस्तेमाल से आपकी किडनी खराब तक हो सकती है। इस बात को ध्यान में रखते हुए केंद्रीय औषध मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) ने सभी राज्यों के ड्रग्स कंट्रोलर को एक पत्र लिखा है।

इस पत्र में गैस की दवाएं बनाने वाली कंपनियों को एक चेतावनी नोट लिखने का निर्देश दिया गया है। ड्रग्स कंट्रोलर को अब इस बात की जानकारी देनी होगी कि गैस की इस दवा में प्रोटॉन पंप इनहिबिटर्स की मात्रा है जिसका इस्तेमाल किडनी के लिए खतरनाक हो सकता है।

देखा यह गया है क‍ि कई दवाओं के सेवन के वजह से भी पेट में एसिडिटी या गैस बन सकती है। कई बार पेट में ज्यादा गैस ज्यादा बन जाने की वजह से सीने में भी दर्द होने लगता है। गैस ज्यादा चढ़ जाए तो उल्टियां तक आने लगती हैं। ज्यादातर लोग गैस की समस्या को कोई बीमारी नहीं समझते हैं और खुद ही उसकी दवाइयां लेने लगते हैं।

गैस्ट्रिक में ली जाने वाली दवाओं में pantaprazole, omiprazole, lansaprazole, isomeprazole, ribiprazole सहित और भी कई दवाएं हैं जिसे लोग खुद ही केमिस्ट की दुकान से खरीद कर खा लेते हैं।

पत्र में कहा गया है कि गैस की दवा बनाने वाली कंपनियां दवा के रैपर पर ये जरूर लिखें कि इसके इस्तेमाल से किडनी पर असर पड़ सकता है। दवाओं से मरीजों पर होने वाले साइड इफेक्ट्स पर काम करने वाली वैज्ञानिक संस्था आईपीसी की सलाह की बाद राज्यों के ड्रग्स कंट्रोलर को ये पत्र जारी किया गया है।

अजवाइन और जीरा से दूर हो सकती है एस‍िड‍िटी की समस्या

पेट की समस्या ऐसी है कि हर कोई इससे परेशान रहता है। हमारी भागदौड़ भरी जीवनशैली में गैस बनने से लेकर पेट फूलने और कब्ज होने की समस्या बेहद आम हो गई है। बार-बार डॉक्टर पर जाने, इलाज और दवाओं पर पैसे खर्च करने से जहां एक तरफ हमारा बजट बिगड़ जाता है, दूसरी तरफ मानसिक परेशानी भी बढ़ जाती है। लेकिन अगर आप कुछ सावधानियां बरत लें और अपने घर के किचन में रखी दो चीजों का हर सुबह इस्तेमाल कर लें तो आपकी पेट की पुरानी से पुरानी समस्या जड़ से खत्म हो जाएगी। ये दो चीजें हैं अजवाइन और जीरा । अपनी इच्छानुसार इन दोनों में से क‍िसी को भी दो घंटे तक पानी में भ‍िगो लें , और फ‍िर इस पानी को पी लें , पेट के ल‍िए रामवाण औषध‍ि है।

– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »