धोनी को आर्मी की मानद रैंक पर बोले Gambhir, आर्मी को किसी विज्ञापन की जरूरत नहीं

नई द‍िल्ली। टीम इंडिया के पूर्व बल्लेबाज Gautam Gambhir ने महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) को आर्मी रैंक दिए जाने पर पहली बार टिप्पणी करते हुए कहा क‍ि आर्मी को किसी विज्ञापन की जरूरत नहीं है।

Gambhir ने भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) को आर्मी रैंक दिए जाने पर पहली बार टिप्पणी की है।  गंभीर से वर्ल्ड कप 2019 में महेंद्र सिंह धोनी द्वारा आर्मी के निशान वाले विकेटकीपिंग ग्लब्स पहनने के मुद्दे पर सवाल पूछा गया था। इसके जवाब में गंभीर ने कहा है कि आर्मी को किसी भी तरह के विज्ञापन की जरूरत नहीं है, और न ही उसे मार्केटिंग की आवश्यकता है।

धोनी को लेकर पूछे गए सवाल पर Gautam Gambhir ने एक अंग्रेजी न्यूज पेपर से कहा कि अगर उन्हें ऐसा करना अच्छा लगता है तो इसे पहनने में कोई बुराई नहीं है. मगर इसे खबरों में नहीं लाया जाना चाहिए. मुझे लगता है कि आर्मी को किसी तरह के विज्ञापन की जरूरत नहीं है। न ही उसे मार्केटिंग की आवश्यकता है। मैं डिफेंस फोर्स में किसी को भी मानद रैंक देने के पक्ष में नहीं हूं। मैं इस मुद्दे पर बेहद मुखर हूं। वर्दी पहनने की योग्यता हासिल करने के लिए लोग खून-पसीना बहा देते हैं। यहां हर किसी के लिए मानद व्यवस्‍था है, कम से कम डिफेंस सर्विस (Defense Service) को तो इससे अलग रखना चाहिए।

बाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज गौतम गंभीर ने हालांकि महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) के इंडियन आर्मी की सेवा करने के फैसले की प्रशंसा की।

गौरतलब है क‍ि  इंडियन टेरिटोरियल आर्मी में लेफ्टिनेंट कर्नल के मानद रैंक हासिल करने वाले महेंद्र सिंह धोनी ने हाल ही में कश्मीर में दो हफ्ते की आर्मी ट्रेनिंग ली थी। इसके लिए भारत के इस दिग्गज विकेटकीपर और पूर्व कप्तान ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से ब्रेक भी लिया था। इस बारे में गंभीर ने कहा कि धोनी ने कश्मीर में जाकर आर्मी की सेवा कर शानदार काम किया, इसके लिए उन्हें सलामी देता हूं मगर मैं डिफेंस सेक्टर में मानद उपाधि दिए जाने के पूरी तरह खिलाफ हूं।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *