केजरीवाल सरकार के मंत्री के घर से बेनामी संपत्ति के कागजात बरामद

नई दिल्‍ली। दिल्ली में आम आदमी पार्टी के नेता और अरविंद केजरीवाल सरकार के मंत्री कैलाश गहलोत की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। गहलोत के आवास पर पड़े आयकर के छापे में टीम को 35 लाख रुपए के अलावा बेनामी संपत्ति व अन्य कई महत्वपूर्ण कागजात बरामद हुए हैं। आयकर विभाग ने 16 स्थानों पर चले छापे के बाद यह सनसनीखेज खुलासा किया है।
अब ED-सीबीआई का भी कसेगा शिकंजा
खबरों के मुताबिक इनकम टैक्स विभाग ने छापों के बाद खुलासा किया है कि उन्होंने कैलाश गहलोत के पास से 35 लाख रुपये नकद और कुछ बेनामी संपत्तियों के कागजात जुटाए हैं। बताया जा रहा है कि इसके बाद दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत पर प्रवर्तन निदेशालय (ED) और केंद्रीय जांच एजेंसी (CBI) का भी शिकंजा कस सकता है।
छापे के चलते चीन दौरे पर नहीं जा सकते मंत्री
आयकर विभाग का छापा पड़ने से परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत का चीन दौरा भी निरस्त हो गया। दिल्ली सरकार का प्रतिनिधि मंडल बगैर मंत्री के ही चीन रवाना हुआ है। इलेक्ट्रिक बसों को खरीदने की संभावना तलाशने के लिए मंत्री के नेतृत्व में प्रतिनिधि मंडल चीन गया है।
इससे पहले कैलाश गहलोत के वसंत कुंज स्थित आवास पर आयकर विभाग के अधिकारी पिछले तीन दिनों से डेरा डाले हुए थे और शुक्रवार रात करीब नौ बजे वे उनके आवास से बाहर निकले। इस दौरान अधिकारियों ने मंत्री के बिजनेस से जुड़े सभी दस्तावेज खंगाले।
सूत्रों के अनुसार, अधिकारियों ने मंत्री की कारपोरेट इंटरनेशनल फाइनेंशियल सर्विस लिमिटेड और ब्रिज कंस्ट्रक्शन एंड डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड के दस्तावेजों की जांच की। शुक्रवार दोपहर काफी अनुरोध के बाद आप विधायक नरेश यादव, नितिन त्यागी, प्रकाश जरवाल और करतार सिंह तंवर को मंत्री से मिलने की इजाजत दी गई। 15-20 मिनट बाद सभी बाहर निकले तो केंद्र सरकार पर उन्हें परेशान करने का आरोप लगाया।
देवली से विधायक प्रकाश जारवाल ने बताया कि गहलोत को केंद्र सरकार जानबूझकर परेशान कर रही है ताकि जनता का काम न हो सके और आम आदमी पार्टी सरकार की छवि खराब हो। हालांकि इस बारे में कैलाश गहलोत की प्रतिक्रिया व उनका पक्ष जानने के लिए उन्हें कई बार फोन किया गया, लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव नहीं की।
गौरतलब है कि बुधवार सुबह करीब आठ बजे आयकर विभाग की टीम उनके घर पहुंची थी। टू-बीएचके के फ्लैट में इनकम टैक्स के करीब आठ अधिकारी पिछले तीन दिनों से उनके दस्तावेज खंगाल रहे थे। सूत्रों के अनुसार गहलोत के खिलाफ कर भुगतान में बरती गई अनियमितता की शिकायतें मिली थीं। आयकर विभाग काफी दिनों से इन शिकायतों की पुष्टि के लिए कागजात व साक्ष्य जुटा रही था।
साक्ष्य पुख्ता होने व शिकायत की गंभीरता को देखते हुए टीम ने बुधवार को दिल्ली समेत कुछ अन्य जगहों पर एक साथ कार्यवाही शुरू की थी। सूत्रों ने बताया कि आयकर अधिकारी अपने साथ भारी मात्र में दस्तावेज लेकर गए हैं। इन दस्तावेजों का उनकी अन्य जगहों से हासिल किए गए दस्तावेंजों से मिलान भी कराई जाएगी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »