पर्यावरण से दोस्ती के संकल्प सहित मनाया Friendship Day

आगरा। दिल्ली गेट स्थित गोवर्धन होटल में लोक स्वर संस्था ने Friendship Day को एक खास ढंग से मनाया उन्होने इस अवसर पर इंसानियत से दोस्ती के साथ पर्यावरण और शहर से अपनी दोस्ती का संकल्प लिया । इस अवसर पर शहर के बुद्धिजीवियों ने सर्वप्रथम एक दूसरे की कलाई पर फ्रेंडशिप बैंड बांध कर अपनी मित्रता को और भी अधिक मजबूत करते हुए कहा कि आज हम लोग जिस प्रकार से धर्म व जातियों के संकीर्ण दायरे में बंटते जा रहे हैं यह बहुत ही चिंता का विषय है हमें धर्म और जाति से परे इंसानियत से दोस्ती करनी चाहिए।

इस कार्यक्रम के माध्यम से लोक स्वर संस्था सभी को आपसी प्रेम व सौहदार्य का संदेश दे रही हैं | साथ ही प्रकृति के संरक्षण को आज सबसे बड़ी चुनौती मानते हुए सांकेतिक रूप से पौधों को भी फ्रेंडशिप बैंड बांध कर प्रकृति के साथ अपनी मित्रता को और भी अधिक मजबूत कर उसके संरक्षण का संकल्प लिया व सभी से पेड़ पौधों के संरक्षण की अपील भी की |

संस्था के अध्यक्ष राजीव गुप्ता ने बताया कि लोकस्वर संस्था निरंतर रूप से अपने शहर और पर्यावरण से लोगों को जोड़ने का कार्य कर रही है Friendship Day के अवसर पर हम सभी ने अपने पर्यावरण व शहर से अपनी दोस्ती से इजहार के साथ साथ इंसानियत से भी दोस्ती करने का संकल्प लिया है |

इस अवसर पर समाजसेवी अभिनय प्रसाद ने अपने शहर से भी दोस्ती करने की बात कही उन्होने कहा कि जब हम अपने शहर से मजबूत दोस्ती करेंगे तो उसे साफ स्वच्छ और हरा भरा रखेंगे उसे सुंदर बनाने में अपना सहयोग देंगे |

शैलेन्द्र नरवार जी ने कहा जिस तरह से डॉ. देवाशीश भट्टाचार्य पर्यावरण व शहर से प्रेम करते है या उनके प्रति दोस्ती रखते है हम लोगों को भी उसी तरह अपने शहर व पर्यावरण के प्रति दोस्ती व प्रेम रखना चाहिए ।

समाजसेवी रंजन शर्मा ने कहा कि प्रकृति से ही हमारा अस्तित्व है हम सभी को इसका समर्थन करना चाहिये, आज हमने प्रकृति के साथ फ्रेंडशिप डे मना कर इसके संरक्षण का संकल्प लिया है।

सुशील सरित जी ने लिखा हैै-

“सच्चा मित्र कहां मिले कहाँ खोजने जाऊं । दृस्टि है डाली हर तरफ लेकिनकहीं न पाऊं ।

लेकिन कहीं न पाऊं मिले भी मिले तो कैसे । जब खुद में ही भाव न सच्चे मित्र के जैसे ।

कहें सरित हर मित्र भाव का धागा कच्चा । पाया हमने वृक्ष को केवल मित्र है सच्चा । केवल मित्र है वृक्ष”।

कार्यक्रम में प्रमुख रुप से राजीव गुप्ता, अभिनय प्रसाद, शैलेन्द्र नरवार, रंजन शर्मा, साक्षी जैन, किशोर कर्मचंदानी, गोराव लूथरा निहाल सिंह जैन, शशि सरिमोनी ,सावित्री अल्का अग्रवाल आदि उपस्थित रहे |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »