ट्रैवल कंपनी कॉक्स एंड किंग्स पर 170 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का केस दर्ज

मुंबई। निजी क्षेत्र के कोटक महिंद्रा बैंक ने दिवालिया हो चुकी ट्रैवल कंपनी कॉक्स एंड किंग्स Cox & Kings के खिलाफ 170 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया है।
इससे पहले Cox & Kings को कर्ज देने वाले बैंकों के एक ग्रुप ने मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा में शिकायत की थी। उन्होंने कंपनी पर धोखाधड़ी करने का आरोप लगाया है।
इस बारे में शुरुआती जांच जारी है लेकिन मुंबई पुलिस ने कोटक बैंक की शिकायत के आधार पर एक केस दर्ज किया था। इस मामले को आर्थिक अपराध शाखा को सौंप दिया गया है। इंडसइंड बैंक ने भी कंपनी पर 240 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का आरोप लगाया है। आर्थिक अपराध शाखा इसकी भी जांच कर रही है। मामले की जानकारी रखने वाले एक अधिकारी ने कहा कि हमने शिकायत का अध्ययन किया है। साथ ही पीडब्ल्यूसी द्वारा तैयार ऑडिट रिपोर्ट भी देखी है। हमें लगता है कि इंडसइंड बैंक की शिकायत में दम है। जल्दी ही शुरुआती जांच को एफआईआर में बदला जाएगा।
काउंटर एफआईआर
Cox & Kings के प्रमोटर अजय अजीत पीटर केलकर ने भी बैंकों और कंपनी मैनेजमेंट में शामिल रहे कई अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर की है। उन्होंने इन लोगों पर Cox & Kings और उसकी सहयोगी कंपनियों को 5,500 करोड़ रुपये से अधिक का नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया है। Cox & Kings अभी कॉरपोरेट इनसॉल्वेंसी रिजॉल्यूशन की प्रक्रिया से गुजर रही है। पिछले महीने ईडी ने यस बैंक घोटाले के सिलसिले में Cox & Kings समूह के 5 ठिकानों पर छापा मारा था।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *