नक्सलियों के हमले में CRPF के 4 जवान शहीद, Anti-landmine वाहन उड़ाया

बीजापुर। छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सलियों ने Anti-landmine वाहन में विस्फोट कर उड़ा दिया जिससे सीआरपीएफ के चार जवान शहीद हो गए और दो जवान घायल हो गए हैं।

बताया जा रहा है कि सीआरपीएफ की 168 बटालियन के जवान Anti-landmine वाहन से पेट्रोलिंग कर रहे थे। इस दौरान नक्सलियों ने पेट्रोलिंग पार्टी के वाहन पर हमला हुआ। इसमें अभी तक मिली जानकारी में चार जवान शहीद हो गए हैं जबकि दो जवान घायल हो गए हैं।

आपको बात दें कि 25 मई, 2013 को छत्तीसगढ़ के बस्तर के दरभा घाटी में देश के इतिहास में सबसे बड़ा माओवादी हमला हुआ था जिसमें कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता मारे गए थे। माओवादी हमले में आदिवासी नेता महेंद्र कर्मा, कांग्रेस पार्टी के प्रदेशा अध्यक्ष नंद कुमार पटेल, पूर्व केंद्रीय मंत्री विद्याचरण शुक्ल, पूर्व विधायक उदय मुदलियार समेत 30 से अधिक लोग मारे गए थे।

जगदलपुर से 30 किलोमीटर दूर दरभा में 150 से अधिक हथियारबंद नक्सलियों ने शाम करीब साढ़े पांच बजे उस समय अंधाधुंध गोलीबारी की, जब कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा का काफिला जिरह घाटी के पास पहुंचा। नक्सलियों ने पहले पेड़ गिरा कर रास्ता रोका, फिर बारूदी सुरंग से विस्फोट किया। इसके बाद पूरे काफिले को घेर कर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। इस हमले में नक्सलियों के मुख्य टार्गेट महेंद्र कर्मा थे। कर्मा नक्सलियों के सफाए के लिए शुरू हुए सलवा जुडुम अभियान के नेता थे और वह लम्बे समय से नक्सलियों की हिट लिस्ट में भी शामिल थे। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक नक्सलियों ने कर्मा को मारने के बाद उनके शव के इर्द-गिर्द जश्न भी मनाया था।

-Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »