शिवसेना सांसद रवींद्र गायकवाड़ के सफर पर चार एयरलाइंस ने लगाई रोक

Four airlines Travel bans for Shiv Sena MP Ravindra Gaikwad
शिवसेना सांसद रवींद्र गायकवाड़ के सफर पर चार एयरलाइंस ने लगाई रोक

नई दिल्ली। एयर इंडिया के स्टाफ मेंबर से मारपीट करने वाले शिवसेना सांसद रवींद्र गायकवाड़ पर एयरलाइंस कंपनियों ने कड़ा रुख अपना लिया है। एयर इंडिया के अलावा निजी क्षेत्र की चार एयरलाइंस ने गायकवाड़ के विमान में सफर पर रोक लगा दी है। वहीं, एयर इंडिया ने सांसद के दिल्ली से पुणे लौटने के टिकट को कैंसल कर दिया था। बता दें कि मारपीट के मुद्दे पर सांसद ने माफी मांगने से इंकार कर दिया। उड़ान पर बैन लगने की खबरों पर सांसद ने चुनौती देते हुए कहा था कि उनकी आज की ही फ्लाइट है और वह देखेंगे कि कौन उनको सफर करने से रोकता है?
सूत्रों के मुताबिक फेडरेशन आफ इंडियन एयरलाइंस (एफआईए) ने इस घटना पर कड़ा रख अपनाते हुए गायकवाड़ के विमान से यात्रा पर रोक लगा दी। एफआईए के सदस्यों में जेट एयरवेज, इंडिगो, स्पाइसजेट और गो एयर शामिल हैं। समझा जाता है कि फेडरेशन इस बारे में जल्द विस्तृत बयान जारी करेगा। इस बीच, बजट विमानन कंपनी इंडिगो ने कहा है कि वह उड़ान के दौरान गलत बर्ताव करने वाले यात्रियों पर रोक के किसी भी कदम का समर्थन करेगी। उधर, शिवसेना सांसद द्वारा एयर इंडिया के एक कर्मी की पिटाई की घटना के बाद एयर इंडिया ऐसे यात्रियों की सूची बना रही है जिन्हें उड़ान की अनुमति नहीं दी जाएगी। इंडिगो के अध्यक्ष एवं पूर्णकालिक निदेशक आदित्य घोष ने कहा, ‘हम ऐसी किसी सूची का समर्थन करेंगे।’ फिलहाल भारत में इस तरह की व्यवस्था नहीं है।
सांसद ने जहां अपने बर्ताव पर माफी मांगने से इंकार कर दिया है, वहीं नागरिक उड्डयन मंत्री अशोक गजपति राजू ने इस मामले में ऐक्शन लिए जाने का भरोसा दिलाया है। वहीं, सांसद ने कहा, ‘काहे का पाश्चाताप? मैं माफी नहीं मांगूंगा।’ उन्होंने कहा, ‘मैं माफी नहीं मांगूंगा, मैं क्यों मांगू? पहले उसे (पीड़ित) कहो माफी मांगने के लिए, उसके बाद हम देखेंगे।’ सांसद ने दिल्ली पुलिस को चुनौती दी कि अगर हिम्मत है तो वह उसे गिरफ्तार करके दिखाए।
सांसद पर 2 केस दर्ज
सांसद के खिलाफ गुरुवार को एयर इंडिया के एक कर्मचारी के साथ मारपीट करने और विमान को उड़ान भरने में बाधित करने को लेकर 2 अलग-अलग मामले दर्ज किए गए हैं। एयर इंडिया के एक प्रवक्ता ने बताया कि गायकवाड़ के खिलाफ 2 अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज कराई गई हैं। इनमें से एक प्राथमिकी एयर इंडिया के एक कर्मचारी को चप्पल से मारने और उसे विमान से बाहर फेंकने की कोशिश करने के आरोप में दर्ज कराई गई है। प्रवक्ता ने बताया कि गायकवाड़ एयर इंडिया के कर्मचारी को विमान से बाहर धक्का देने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन वहां मौजूद अन्य कर्मचारियों ने उन्हें बचाया। गायकवाड़ के खिलाफ दूसरी प्राथमिकी दिल्ली से गोवा जाने वाली 115 यात्रियों से भरे विमान को अपने बर्ताव के चलते उड़ान भरने में देरी करवाने के लिए दर्ज करवाई गई है। गायकवाड़ के खिलाफ यह दोनों प्राथमिकी दिल्ली पुलिस में दर्ज कराई गई है।
क्या है मामला
एयर इंडिया के प्रवक्ता के मुताबिक, गायकवाड़ पुणे से दिल्ली के लिए एआई852 विमान में सफर कर रहे थे, जो सुबह 9.35 बजे दिल्ली पहुंची। यही विमान गुरुवार की सुबह 10.55 बजे दिल्ली से गोवा के लिए उड़ान भरने वाली थी। दिल्ली पहुंचने के बाद विमान से सभी यात्री उतर गए, लेकिन गायकवाड़ नहीं उतरे। पुणे हवाई अड्डे के प्रबंधक ने बताया कि जांच में पता चला है कि सांसद के पास ओपन बिजनेस क्लास का टिकट था लेकिन वह उसी विमान में सफर करना चाहते थे, जो नियमित तौर पर इकॉनमी क्लास की उड़ान ही भरती है। उनके सहयोगी को इस संबंध में सूचित कर दिया गया था।
हालांकि, गायकवाड़ ने जब उसी विमान से उड़ान भरने पर जोर दिया तो उन्हें विमान की पहली रो में एक सीट मुहैया कराई गई, क्योंकि उस विमान में अलग से बिजनेस क्लास है ही नहीं। नई दिल्ली हवाई अड्डे पर सांसद विमान से एक घंटे तक नहीं उतरे, जबकि गोवा जाने वाले 115 यात्री विमान के उड़ान भरने का इंतजार करते रहे। एयर इंडिया के प्रवक्ता ने कहा, ‘कर्मचारियों ने जब गायकवाड़ से विमान से उतरने के लिए कहा तो वह गालियां देने लगे और एयर इंडिया के कर्मचारी को चप्पलों से मारने लगे। गायकवाड़ ने उन्हें विमान से बाहर धक्का देने की कोशिश भी की लेकिन अन्य कर्मचारियों ने उन्हें बचा लिया।’
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *