पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत नाजुक, वेंटिलेटर पर

नई दिल्‍ली। सेना के रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल ने आज बताया कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत नाजुक बनी हुई है और उन्हें जीवनरक्षक प्रणाली पर रखा गया है। इससे एक दिन पहले उनके मस्तिष्क की सर्जरी की गई थी। मुखर्जी को सोमवार की दोपहर के वक्त सैन्य अस्पताल में भर्ती कराया गया था और सर्जरी से पहले उनमें कोविड-19 की भी पुष्टि हुई थी।

अस्पताल की ओर से जारी मेडिकल बुलेटिन में कहा गया, ‘पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को 10 अगस्त 2020 को गंभीर स्थिति में 12 बजकर सात मिनट पर दिल्ली छावनी स्थित सेना के आर एंड आर अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल में की गई चिकित्सीय जांच में सामने आया कि उनके मस्तिष्क में एक बड़ा सा थक्का है, जिसके लिए उनकी आपातकालीन जीवनरक्षक सर्जरी की गई। सर्जरी के बाद भी उनकी हालत नाजुक बनी हुई है और उन्हें जीवनरक्षक प्रणाली पर रखा गया है।
इससे पहले सोमवार को मुखर्जी ने खुद ट्वीट कर अपने कोरोना वायरस से संक्रमित होने की जानकारी दी थी। उन्होंने लिखा था, ‘अन्य कारणों से अस्पताल गया था, जहां पर आज कोविड-19 जांच में संक्रमित होने की पुष्टि हुई। पिछले सप्ताह मेरे संपर्क में आए उन सभी लोगों से मेरा अनुरोध है कि वे खुद को आइसोलेट कर लें और कोरोना की जांच करवाएं।’

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मुखर्जी के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है। उन्होंने मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी से बात कर उनके पिता की तबीयत के बारे में पूछा। राष्ट्रपति भवन ने ट्वीट किया, ‘राष्ट्रपति ने शर्मिष्ठा मुखर्जी से बात कर उनके पिता पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की तबीयत के बारे में जानकारी ली। राष्ट्रपति ने उनके जल्द स्वस्थ होने और अच्छे स्वास्थ्य की कामना की।’ वहीं, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी अस्पताल का दौरा कर पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की स्वास्थ्य की जानकारी ली थी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *