भारत की UN को दो टूक, द‍िल्ली ह‍िंसा पर बेवजह टिप्पणी देने से बचें

नई दिल्ली। दिल्ली में हो रही हिंसा पर UN (संयुक्त राष्ट्र) द्वारा की गई टिप्पणी पर भारतीय विदेश मंत्रालय ने जवाब दिया है। भारतीय विदेश मंत्रालय ने अपना जवाब में कहा कि मीडिया के कुछ वर्गों और कुछ व्यक्तियों पर की गई टिप्पणियां तथ्यात्मक रूप से गलत और भ्रामक हैं। इस मुद्दे का राजनीतिकरण करने का उद्देश्य प्रतीत हो रहा है। साथ ही नसीहत दी है कि इस तरह की गैर जिम्मेदाराना टिप्पणी न करें।

पीएम कर चुके हैं शांति की अपील: विदेश मंत्रालय

मंत्रालय ने अपने बयान में आगे कहा कि कानून प्रवर्तन एजेंसियां ​​हिंसा को रोकने और सामान्य स्थिति बहाल करने के लिए काम कर रही हैं। वरिष्ठ सरकारी प्रतिनिधि प्रक्रिया में शामिल हैं। पीएम ने शांति और भाईचारे की अपील की। हम आग्रह करेंगे कि इस समय गैर जिम्मेदाराना टिप्पणी न की जाए।

दिल्‍ली के उत्तर-पूर्वी इलाके में भड़की सीएए विरोधी हिंसा में चार दिनों काफी नुकसान हुआ है। दर्जनों गाड़ियों और कई घरों को आग के हवाले करने का दर्दनाक मंजर सामने आया। तस्‍वीरें ऐसी हैं कि देख कर रूह कांप जाए। बुधवार तक कुल 27 लोगों की मौत हो चुकी है। 250 लोग जख्मी हैं। हिंसा के 3 दिन बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से शांति-भाईचारे की अपील की। वहीं, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने हिंसा प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लेकर लोगों से शांति की अपील की। इसके अलावा उन्‍होंने सेना तैनात करने की बात की। इधर, एनएसए अजीत डोभाल ने भी कई लोगों से बातचीत कर शांति और सुरक्षा में सहयोग की बात कही। इधर, दिल्ली पुलिस ने बताया कि अब तक 18 मामले दर्ज किए जा चुके हैं और 100 से ज्‍यादा लोग गिरफ्तार हो चुके हैं।- एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »