यूपी में ही बनेगा पतंजलि का Food Park, सीएम योगी ने की आचार्य बालकृष्‍ण से बात

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रामदेव से बात कर पतंजलि के Food Park से जुड़े विवाद को आगे बढ़ने से रोकते हुए अधिकारियों को कैबिनेट की अगली बैठक में ही इसका प्रस्ताव पेश करने के निर्देश दिए।
पतंजलि आयुर्वेद के एमडी व पतंजलि योगपीठ के सह संस्थापक आचार्य बालकृष्ण ने यह कहकर हड़कंप मचा दिया था कि पतंजलि उत्तर प्रदेश सरकार के असहयोगपूर्ण रवैये के कारण राज्य में यमुना एक्सप्रेसवे के पास 6,000 करोड़ रुपए के मेगा Food Park (खाद्य प्रसंस्करण परियोजना) को छोड़ रही है।
हालांकि, उत्तर प्रदेश सरकार का कहना था कि उसने अंतिम मंजूरी पाने के लिए आवश्यक शर्तों को पूरा करने हेतु पतंजलि को एक और महीने का समय दिया है।
सूत्रों ने बताया कि बालकृष्ण के एलान को सीएम ने बेहद गंभीरता से लिया और तत्काल बाबा रामदेव से बात की। उन्होंने अगली कैबिनेट बैठक में ही Food Park के लिए भूमि हस्तांतरण से जुड़ी अनुमति की कार्यवाही कराए जाने की जानकारी दी।
हरिद्वार स्थित इस कंपनी ने अपनी ही एक कंपनी पतंजलि फूड एंड हर्बल पार्क Food Park के माध्यम से घरेलू और निर्यात बाजारों की जरुरतों को पूरा करने के लिए वाईएआईडीए में 425 एकड़ भूमि में एक संयंत्र स्थापित करने के लिए 6,000 करोड़ रुपए का निवेश करने का प्रस्ताव रखा था।
चूंकि कंपनी को जमीन का आवंटन कैबिनेट से हुआ था इसलिए उससे किसी हिस्से का अलग हस्तांतरण भी कैबिनेट से ही हो सकता है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »