Flipkart के ग्रुप सीईओ बिन्नी बंसल का इस्‍तीफा

बेंगलुरु। Flipkart के ग्रुप सीईओ बिन्नी बंसल (37) ने इस्तीफा दे दिया है। Flipkart में 77% की हिस्सेदारी रखने वाले वॉलमार्ट ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी। बिन्नी का इस्तीफा तुरंत प्रभाव से मंजूर कर लिया गया है। उन पर गलत व्यवहार करने के आरोप लगे थे, जिनकी जांच चल रही थी।
वॉलमार्ट के मुताबिक, बंसल ने उनके खिलाफ जांच जारी रहने के दौरान ही इस्तीफे का फैसला लिया। हालांकि, उन्होंने आरोपों को गलत बताया है। इससे पहले सितंबर में खबरें आई थीं कि बिन्नी बंसल कंपनी के रोजाना के कामकाज में सक्रिय भूमिका नहीं निभा रहे। इसलिए ग्रुप सीईओ बदलने की जरूरत महसूस हो रही है।
बिन्नी के फैसलों में पारदर्शिता नहीं थी: वॉलमार्ट
कंपनी की तरफ से जारी बयान के मुताबिक बिन्नी के खिलाफ मिली शिकायत से जुड़े सबूत तो नहीं मिले लेकिन उनकी तरफ से लिए गए फैसलों में खामियां मिलीं। खासकर किसी परिस्थिति विशेष में लिए गए उनके फैसलों में पारदर्शिता की कमी नजर आई इसलिए उनका इस्तीफा मंजूर कर लिया गया।
मई में वॉलमार्ट ने फ्लिपकार्ट में हिस्सेदारी खरीदी थी
अमेरिकी रिटेल कंपनी वॉलमार्ट ने मई में Flipkart की 77% हिस्सेदारी 1.07 लाख करोड़ रुपए (16 अरब डॉलर) में खरीदी थी। अगस्त में सीसीआई की मंजूरी के बाद डील पूरी हो गई। बिन्नी बंसल और सचिन बंसल ने 2007 में Flipkart शुरू की थी।
बिन्नी की पत्नी फ्लिपकार्ट से खरीदारी नहीं करतीं
बिन्नी बंसल ने अगस्त में एक प्रोग्राम के दौरान कहा था कि उन्होंने दो बार गूगल से नौकरी मांगी थी, लेकिन रिजेक्ट हो गए। इसके बाद कुछ बड़ा करने की ठानी और Flipkart बना दी। उन्होंने कहा कि “पत्नी को फ्लिपकार्ट से खरीदारी के लिए राजी करना उनकी लिए बड़ी चुनौतियों में से एक है। हर रोज वो बिगबास्केट से फल और सब्जियां खरीदती हैं और मैं कहता हूं कि फ्लिपकार्ट के नए फीचर्स ट्राई करो।”
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »