लाहौर की प्रमुख सूफ़ी दरगाह के बाहर धमाके में 9 लोगों की मौत, 24 घायल

इस्‍लामाबाद। लाहौर की एक प्रमुख सूफ़ी दरगाह दाता दरबार के बाहर हुए धमाके में कम से कम 9 लोगों की मौत हो गई है. इनमें तीन पुलिसकर्मी शामिल हैं. हमले में कई अन्य लोगों के घायल होने की भी ख़बर है.
पुलिस अधिकारियों के मुताबिक हमले में सुरक्षादस्ते की एक गाड़ी को निशाना बनाया गया. धमाके में घायल हुए 24 लोगों को अस्पताल में दाखिल कराया गया है.
धमाके के बाद से इलाके में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी पहुंच गए हैं और पूरे क्षेत्र की तलाशी ली जा रही है.
अभी तक किसी समूह ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है.
पुलिस ने क्या कहा?
लाहौर पुलिस के डीआईजी (आपरेशन) मोहम्मद अशफाक ने बताया है कि हमले में दरगाह के बाहर तैनात पुलिसकर्मियों की गाड़ी को निशाना बनाया गया. उन्होंने बताया कि मरने वालों में एक आम नागरिक और एक सुरक्षा गार्ड भी शामिल है.
वहीं लाहौर पुलिस के प्रमुख बीए नासिर ने कहा है कि ये एक आत्मघाती हमला था लेकिन मामले की जांच की जा रही है.
पंजाब पुलिस के प्रमुख आरिफ नवाज़ खान की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि हमले के बाद पूरे प्रांत में सुरक्षा बढ़ा दी गई है.
उन्होंने कहा, “पुलिस पर हमला आतंकवादी घटना का संकेत देता है. समाज के दुश्मनों के ख़िलाफ अभियान चलाया जा रहा है.”
दाता दरबार दरगाह दक्षिण एशिया की सबसे पुरानी दरगाहों में से एक है.
यहां रोज़ाना हज़ारों लोग दर्शन के लिए आते हैं. दर्शन करने वालों में सुन्नी और शिया मुसलमानों के अलावा ग़ैर-मुस्लिमों की भी बड़ी तादाद होती है.
ये धमाका रमज़ान के महीने में हुआ है. लाहौर पाकिस्तान का दूसरा सबसे बड़ा शहर है.
साल 2010 में भी यहां धमाके हुए थे जिनमें 42 लोगों की मौत हुई थी. दुर्घटनास्थल से अधिकारी ने मीडिया को बताया कि विस्फोट की प्रकृति का अभी तक पता नहीं चल सका है और कुछ भी कहना अभी जल्दबाजी होगी। पुलिस ने इलाके की घेराबंदी कर दी है और विस्फोट की प्रकृति का पता लगा रही है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि टीम घटना के मूल्यांकन पर काम कर रही है।
अधिकारी ने बताया, ‘आतंकवाद विरोधी विभाग सहित सभी विभाग काम कर रहे हैं। हम नागरिकों की सुरक्षा के प्रयासों के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।’ पाकिस्तान रेडियो ने खबर दी है कि प्रधानमंत्री इमरान खान ने लाहौर में दाता दरबार के बाहर विस्फोट की कड़ी निंदा की है और अधिकारियों से एक रिपोर्ट मांगी है। प्रधानमंत्री ने शोक संतप्त परिवार के प्रति दुख व्यक्त किया है और विस्फोट में घायलों को सर्वश्रेष्ठ संभावित चिकित्सा उपचार मुहैया कराने का निर्देश दिया।
-BBC

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »