पहली पत्नी Jemima ने इमरान को कुछ यूं दी स्‍पेशल बधाई

क्रिकेटर से राजनेता बने इमरान खान पाकिस्तान का अगला प्रधानमंत्री बनने के लिए तैयार हैं, उनकी पूर्व पत्नी  Jemima गोल्डस्मिथ ने गुरुवार को उनकी चुनावों में जीत का स्वागत करते हुए इसे ‘दृढ़ता का अविश्वसनीय उदाहरण’ बताया। जेमिमा ने एक ट्वीट में याद किया कि कैसे इमरान खान ने 1992 का क्रिकेट विश्व कप जीतने के बाद क्रिकेट से संन्यास लिया और 1996 में राजनीति में शामिल होकर पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी शुरू की।

इमरान खान पाकिस्तान के अगले प्रधानमंत्री बनने की राह में आगे बढ़ते दिखाई दे रहे हैं। वोटों की गिनती में उनकी पार्टी करीब 118 सीटों पर आगे चल रही है। अब लगभग यह तय माना जा रहा है कि निर्दलियों का समर्थन मिला तो इमरान पीएम बन जाएंगे। ऐसे में इमरान को चौतरफा बधाई मिल रही है लेकिन पहली पत्नी जेमिमा गोल्डस्मिथ की बधाई कुछ खास है।

ब्रिटिश जर्नलिस्ट जेमिमा गोल्डस्मिथ इमरान खान की पहली पत्नी हैं। वैसे तो जेमिमा से इमरान का तलाक हो चुका है लेकिन ऐसा कहा जाता है कि दोनों के बीच अभी भी अच्छे रिश्ते बने हुए हैं। गुरुवार को इसकी एक बानगी जेमिमा गोल्डस्मिथ की तरफ से दिखी। पाकिस्तान में इमराम की संभावित जीत को देखते हुए जेमिमा ने ट्वीट कर इमरान को बधाई दी।

जेमिमा ने लिखा, ‘अपमान, बाधाओं और बलिदान के 22 साल बाद मेरे बेटों के पिता पाकिस्तान के अगले पीएम हैं। यह यह दृढ़ता, विश्वास और हार को स्वीकार न करने का एक अविश्वसनीय सबक है। अब चुनौती इस बात को याद रखने की है कि उन्होंने पहली प्राथमिकता में राजनीति में क्यों प्रवेश किया। इमरान को बधाइयां।’

जेमिमा ने दूसरे ट्वीट में लिखा कि मुझे इमरान का 1997 का पहला चुनाव याद है। तब इमरान आदर्शवादी थे और राजनीति में नए थे। जेमिमा ने लिखा कि तब वह 3 महीने के बेटे सुलेमान के साथ देशभर घूमी थीं। वह लाहौर में इमरान के फोन का इंतजार कर रही थीं। इसी बीच इमरान ने उन्हें फोन किया और कहा कि यह क्लीन स्वीप था। कुछ पल उनकी सांसे रुकी रहीं और फिर इमरान ने अट्टाहास करते हुए कहा कि उनके खिलाफ क्लीन स्वीप थी, यानी पार्टी हार गई थी।

थोड़ी ही देर में यह ट्वीट वायरल हो गया और जेमिमा को इस पर काफी रीऐक्शन मिल रहे हैं। आपको बता दें कि इमरान ने जेमिमा से जब शादी की थी तो वह 42 साल के थे जबकि जेमिमा 21 की। इन दोनों के सुलेमाम और कासिम नाम के दो बच्चे हैं। जेमिमा ने शादी के बाद इस्लाम कबूल कर लिया था। कहा जाता है कि इमरान खान के राजनीतिक जीवन से जेमिमा के बैलेंस नहीं बना पाने की वजह से यह शादी नहीं चल पाई और 2004 में तलाक हो गया।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »