पहली बार Army police में शामिल होंगी महिलाएं, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

मोदी ने Army police में भर्ती के इस कदम को भारत की “बहादुर बेटियों” के लिए एक “उपहार” बताया

नई दिल्‍ली। सेना ने पहली बार महिलाओं को Army police में भर्ती करने के लिए समाचार पत्रों में एक विज्ञापन जारी किया गया। ऐसा पहली बार होगा जब सेना में Army police में सैनिकों के रूप में महिलाएं आवेदन कर सकती हैं। इस पद के लिए आवेदन की ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू हो गई है जिसके लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू कर दिया गया है। महिलाएं 8 जून तक आवेदन कर सकती है। सेना के जनरल बिपिन रावत ने सेना प्रमुख के रूप में कार्यभार संभालने के तुरंत बाद इस परियोजना को शुरू किया था।

यह कदम पिछले साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वतंत्रता दिवस के भाषण के बाद उठाया गया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि शॉर्ट सर्विस कमीशन के तहत सशस्त्र बलों में भर्ती होने वाली महिला अधिकारियों को स्थायी कमीशन लेने का विकल्प दिया जाएगा। मोदी ने इस कदम को भारत की “बहादुर बेटियों” के लिए एक “उपहार” बताया था।

जनवरी में रक्षा मंत्री सीतारमण ने कहा था कि सेना पुलिस में महिलाओं की भागीदारी 20% होगी और इसी के साथ महिलाओं को सेना पुलिस में शामिल करने का फैसला लिया गया था।

सेना ने पहली बार महिलाओं की भर्ती के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू करेगा। रक्षा मंत्रालय ने भी इसकी मंजूरी दे दी है। जनवरी में सेना पुलिस में पहली बार महिलाओं को शामिल करने का फैसला लिया गया था।

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी थी। उनका कहना था कि सेना पुलिस की कुल तादाद में महिलाओं की भागीदारी 20% होगी। महिलाओं की भर्ती पीबीओआर (पर्सनल बिलो आफिसर रैंक) रोल में की जाएगी।

दुष्कर्म, छेड़छाड़ के मामलों की जांच करेंगी
सेना पुलिस में शामिल की जाने वाली महिलाएं दुष्कर्म और छेड़छाड़ जैसे मामलों की जांच करेंगी। सेना पुलिस का रोल सैन्य प्रतिष्ठानों के साथ कैंटोनमेंट इलाकों की देखरेख करना होता है। सेना पुलिस शांति और युद्ध के समय जवानों और साजोसामान की मूवमेंट को संचालित करती है। सेना पुलिस में 800 महिलाओं को भर्ती किया जाएगा। महिलाओं की सालाना भर्ती की दर 52 रहेगी। अभी तक सेना की मेडिकल, सिग्नल, एजुकेशन और इंजीनियरिंग कोर में महिलाओं को भर्ती किया जाता है। महिलाओं को युद्ध में शामिल किए जाने पर विचार किया जा रहा है।

सेना में महिलाओं की संख्या अभी 3.80%
रक्षा राज्य मंत्री सुभाष भामरे ने राज्यसभा में बताया था कि सेना में महिलाओं की भागीदारी 3.80% है। जबकि वायुसेना में 13.09% और नौसेना में 6% महिलाएं हैं।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »